टाइगर स्टेट के घुनघुटी रेंज में बाघ के हमले में शावक की मौत


टाइगर स्टेट का दर्जा मिलने के बाद तीसरे बाघ की मौत



उमरिया। जिले के रेग्युलर फारेस्ट के घुनघुटी रेंज में एक बाघ के शावक की मौत हो गई। पहाड़िया के पास मझगवा नर्सरी में उसका शव मिला। एसडीओ राहुल मिश्रा ने बताया कि बड़े बाघ की हमले में उसकी जान गई है। शावक एक से सवा साल का बताया जा रहा है। हाल ही में अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस पर मध्यप्रदेश को टाइगर स्टेट का दर्जा मिला था। पिछले चार साल में मध्यप्रदेश में 218 बाघों की बढ़ोतरी के साथ इनकी संख्या 526 बताई गई और प्रदेश ने टाइगर (बाघ) स्टेट का दर्जा फिर हासिल कर लिया है। पिछली दो गणना में सबसे ज्यादा टाइगर वाले कर्नाटक में इस बार दो बाघ कम मिले और बाघों की गिनती में वह दूसरे नंबर पर रहा था।आंकड़ों के मुताबिक, 1 अक्टूबर 2018 से 27 जून 2019 तक मध्य प्रदेश में 23 बाघों की मौत हो चुकी है। इनमें से 3 बाघों की मौत शिकार की वजह से हुई जबकि 5 बाघों की मौत करंट लगने से हुई है। बाकी के बाघों की मौत आपसी लड़ाई या फिर प्राकृतिक कारणों से हुई।


Popular posts
राज्यपाल के कार्यक्रम में जनजाति समाज के लोगों के जीवन को खतरे में डालने कि इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्‍वविदयालय की साजिश .
Image
मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज, मंत्री बिसाहूलाल सिंह को भोपाल लेजाने अचानक पंहुचा हेलीकॉप्टर
Image
महामहिम राज्यपाल का जनजाति समुदाय की ओर से विधायक पुष्पराजगढ़ ने किया स्वागत जनसमस्याओं से कराया अवगत
Image
महात्मा गांधी, एवं स्व. श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर एक दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का आयोजन, बरगवां यूथ ब्रिगेड रही विजेता
Image
राजनीति और कानून का मिश्रित नंगा स्तरहीन नाच ? ‘‘लखीमपुर खीरी"
Image