निजीकरण के विरोध में मजूदर संगठन ने राजनगर भगत सिंह चौक में मनाया विरोध दिवस


मप्र/कोतमा। शहीद कोयला राष्ट्रीय संघ हसदेव क्षेत्र के कोल इंडिया बचाव के पक्ष में मोदी सरकार की मजदूर विरोधी बजट के खिलाफ १७ जुलाई को राजनगर भगत सिंह चौक में महामंत्री संयुक्त कोयला (एटक) कामरेड हरिद्वार सिंह के नेतृत्व में विरोध दिवस मनाया गया। जहां विरोध दिवस के रूप में स्व. मारकंडे की मूर्ति पर मल्यार्पण कर सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार देश में निजी करण को बढ़ावा दे देते हुए कोल इंडिया का भी रेलवे की तरह निजीकरण करना चाह रही है। भारत सरकार के द्वारा प्रस्तुत बजट पूर्व में मजदूर विरोधी है, बजट में मजदूरों के हित में कुछ भी नहीं है। यह बजट पूंजी पतियों के पक्ष का बजट है। सरकार सीधे तौर पर पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाना चाहती है। आम सभा में मुख्य रूप से हसदेव क्षेत्र के क्षेत्रीय सचिव कामरेड कन्हैया सिंह, डीएन सिंह, कामरेड विजय सिंह, आरके गिरी, अरविंद श्रीवास्तव, राम शिरोमणि मिश्रा, सुरेश शर्मा, राम अवतार, लक्ष्मीकांत, हरगोविंद सिंह, रामाधार गौतम, नवीन खान, राजेंद्र गुप्ता सहित अधिकारियों, कार्यकर्ताओं एवं ठेकेदार मजदूर उपस्थित रहे