कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा , राज्य विधानसभा में जीता विश्वास प्रस्ताव


कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपनी तीन दिन पुरानी सरकार का बहुमत सोमवार को विधानमसभा में हासिल कर लिया. येदियुरप्पा ने कम संख्या बल वाली विधानसभा में एक पंक्ति का प्रस्ताव पेश किया जिसमें कहा गया कि सदन को उनके नेतृत्व वाली सरकार में भरोसा है. अपनी टिप्पणी में येदियुरप्पा ने कहा कि वह 'प्रतिशोध की राजनीत' में लिप्त नहीं होंगे और वह 'भूलने एवं माफ करने के सिद्धांत' में विश्वास करते हैं. उन्होंने कहा कि प्रशासनिक तंत्र पटरी से उतर चुका है और उनकी प्राथमिकता इसे वापस पटरी पर लाने की है. भाजपा के विश्वास मत आसानी से हासिल करने की उम्मीद है क्योंकि विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार द्वारा 17 बागी विधायकों को रविवार को अयोग्य घोषित किए जाने के बाद 225 सदस्यीय विधानसभा में सदस्यों की संख्या घट कर 208 रह गई.