बिहार में छठ पूजा के दौरानमंदिर की दीवार गिरने और भगदड़ से  4 लोगों की  मौत, 



समस्तीपुर में छठ घाट के निकट तालाब के किनारे बने काली मंदिर की दीवार अचानक से वहां मौजूद श्रद्धालुओं पर आ गिरी. मंदिर की दीवार गिरने से उसमें कई लोगों के अभी भी दबे होने की आशंका है इसके अलावा  औरंगाबाद में शनिवार को डूबते सूरज को अर्घ्य देने के दौरान मची भगदड़ में दो बच्चों की मौत हो गई
बिहार में छठ पूजा के दौरान दो हादसों से कोहराम मच गया है। दो हादसों में चार लोगों की मौत हो गई है। वहीं इन हादसों में कई लोग घायल हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे से समस्तीपुर और औरंगाबाद में मातम पसरा है।बिहार के समस्तीपुर में चढ़ते सूरज को अर्घ्य देते समय दीवार गिरने से हादसा हो गया। बताया जा रहा है कि हसनपुर थाना इलाके में बड़गांव के तालाब के किनारे रविवार की सुबह लोग छठ का अर्घ्य देने के लिए जमा हुए थे। अर्घ्यदान के बाद व्रती और उनके परिजन पास में काली मंदिर के पास खड़े थे। इसी दौरान अचानक मंदिर की दीवार गिर गई। मलबे के नीचे कई लोग दब गए। दो महिलाओं की मौत की पुष्टी की जा चुकी है। कई लोग घायल हुए हैं, जिन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे के बाद मौके पर चारों तरफ चीखपुकार मच गई। हादसे की सूचना मिलने के बाद स्थानीय प्रशासन एसडीएआएफ की टीम के साथ मौके पर पहुंचा और रेस्क्यू ऑपेशन शुरू किया गया।इससे पहले बिहार के औरंगाबाद में शनिवार को डूबते सूरज को अर्घ्य देने के दौरान मची भगदड़ में दो बच्चों की मौत हो गई। भगदड़ में कई लोग घायल भी हुए हैं। बताया जा रहा है कि यह भगदड़ देव प्रखंड मुख्यालय स्थित सूर्यकुंड के पास हुई। पुलिस ने बताया कि भारी भीड़ होने की वजह से अफरातफरी मची और लोग इधर-उधर भागने लगे। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।