प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू

भोपाल | संशोधित नागरिकता अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक पंजी के खिलाफ बृहस्पतिवार को मध्यप्रदेश के 11 जिलों में शांतिपूर्ण प्रदर्शन हुए। वहीं, सीएए एवं एनआरसी पर देश में हो रहे प्रदर्शनों के मद्देनजर कांग्रेस नीत मध्यप्रदेश सरकार ने प्रदेश के 52 जिलों में से 43 जिलों में निषेधाज्ञा लागू की है। मध्यप्रदेश पुलिस स्टेट सिच्युएशन रूम के इंस्पेक्टर हर्मन लाकडा ने बताया कि राज्य सरकार ने एहतियाती तौर पर प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की है। उन्होंने कहा, ''जिन 11 जिलों में सीएए एवं एनआसी के विरोध में प्रदर्शन हुए, उनमें भोपाल, शाजापुर, खंडवा, खरगोन, सिवनी, ग्वालियर, बैतूल, रतलाम, बड़वानी, सागर एवं उज्जैन शामिल हैं। इन जिलों में प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहे।'' लाकडा ने बताया, ''प्रदेश के नौ जिलों में धारा 144 नहीं लगाई गई है। इनमें गुना, शिवपुरी, अलीराजपुर, बैतूल, धार, होशंगाबाद, डिंडोर, टीकमगए़ एवं निवाड़ी जिले शामिल हैं।'' 


Popular posts
जिले के बिजुरी, कोतमा एवं बरगवां (अमलाई) के नगरीय निकाय निर्वाचन कार्यक्रम राज्य निर्वाचन आयोग ने किए घोषित
परिवारवाद’’,’’वंशवाद’’,’’भाई-भतीजावाद-चाचा-भतीजावाद’’ ’’अधिनायकवाद’’ एवं ’’जातिवाद’’! *लोकतंत्र के लिए खतरनाक? कैसे! कब! और क्यों? निदान!
Image
तुलसी रानी पटेल को मिला डॉक्टर आफ फिलासफी (पीएचडी)की उपाधि
Image
आखिर! माननीय ‘‘न्यायालय’’ ‘‘स्वयं की अवमानना‘‘ में क्यों लगा हुआ है?
18 मई को दद्दाजी की प्रथम पुण्यतिथि में शिष्य मंडल जरूरतमंद स्थानों पर भोजन पैकेट का वितरण करेगा
Image