प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू

भोपाल | संशोधित नागरिकता अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक पंजी के खिलाफ बृहस्पतिवार को मध्यप्रदेश के 11 जिलों में शांतिपूर्ण प्रदर्शन हुए। वहीं, सीएए एवं एनआरसी पर देश में हो रहे प्रदर्शनों के मद्देनजर कांग्रेस नीत मध्यप्रदेश सरकार ने प्रदेश के 52 जिलों में से 43 जिलों में निषेधाज्ञा लागू की है। मध्यप्रदेश पुलिस स्टेट सिच्युएशन रूम के इंस्पेक्टर हर्मन लाकडा ने बताया कि राज्य सरकार ने एहतियाती तौर पर प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू की है। उन्होंने कहा, ''जिन 11 जिलों में सीएए एवं एनआसी के विरोध में प्रदर्शन हुए, उनमें भोपाल, शाजापुर, खंडवा, खरगोन, सिवनी, ग्वालियर, बैतूल, रतलाम, बड़वानी, सागर एवं उज्जैन शामिल हैं। इन जिलों में प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहे।'' लाकडा ने बताया, ''प्रदेश के नौ जिलों में धारा 144 नहीं लगाई गई है। इनमें गुना, शिवपुरी, अलीराजपुर, बैतूल, धार, होशंगाबाद, डिंडोर, टीकमगए़ एवं निवाड़ी जिले शामिल हैं।'' 


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image