नक्सलियों से हुई मुठभेड़ में पुलिस के 22 जवान शहीद,रॉकेट लॉन्चर से किया गया था हमला











छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में 22 जवान शहीद हो गए हैं.  जबकि कई जवान लापता बताए जा रहे हैं. सीरआपीएफ के जवान सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं. नक्सल प्रभावित तर्रेंम थाना क्षेत्र के जोन्नागुड़ा के जंगल में शनिवार दोपहर पुलिस व नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में कुल 22 जवान शहीद हुए हैं।बताया जा रहा कि जंगल में शहीद जवानों के शव मिले हैं. नक्सली उनके हथियार, जूते और कपड़े तक लेकर चले गए हैं. इससे पहले शनिवार को पुलिस अधिकारियों ने 5 जवानों के शहीद होने की पुष्टि की थी और 21 जवान लापता बताए जा रहे थे.  सीएम बघेल आज शाम तक असम से छत्तीसगढ़ लौट आएंगे. उन्होंने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह से फोन पर बात हुई. उन्होंने सीआरपीएफ महानिदेशक को राज्य में भेजा है. घायल 30 जवानों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें से 23 घायलों को बीजापुर अस्पताल में और 7 को रायपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सभी की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है. एक रिइंफोर्समेंट पार्टी को मुठभेड़ स्थल पर भेजा गया है. दर्जनभर से ज्यादा नक्सलियों के मारे जाने की खबर है.