दहेज प्रताडऩा से परेशान महिला ने शिकायतपत्र के साथ एएसपी को दिए 500-500 के दो नोट

कार्यवाही की मांग सहित चाय नाश्ता करने बताया रूपए देना



अनूपपुर। जिले में बढ़ते अपराधो पर लगाम कसने जहां पुलिस लगातार उदासीनता बरती हुई है, वहीं अपनी नाकाबी एवं फरियादी पक्ष को कार्यवाही करने के नाम पर रूपए लेने जैसे मामलो में एक अजीब रिवाज सामने आया, जहां 18 जुलाई पुलिस द्वारा कार्यवाही के नाम पर लिए जाने वाले रूपयों को पुलिस द्वारा लिया जाना रिवाज समझते हुए संयुक्त कलेक्ट्रेट में संचालित पुलिस अधीक्षक कार्यालय में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा के पास महिला वेबी सिंह निवासी ग्राम पडौर ने पहुंच अपने पति, ससुर एवं सास के खिलाफ दहेज प्रताडऩा एवं मारपीट की शिकायत पर कार्यवाही की मांग करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को लिखित शिकायत पत्र के अंदर 500-500 के दो नोट देते हुए कार्यवाही की मांग की गई, जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा ने फरियादी महिला से शिकायत के साथ दिए जाने वाले एक हजार रूपए के बारे में पूछा तो उन्होने चाय व नाश्ता किए जाने के नाम पर रूपए देने एवं जल्द कार्यवाही किए जाने की मांग की बात कही और महिला का रूपए वापस करते हुए कार्यवाही का आश्वासन दिया।
यह है मामला
मामले की जानकारी के अनुसार बेबी सिंह पिता गोविंद सिंह उम्र 26 वर्ष ने लिखित शिकायत के साथ १ हजार रूपए देने के साथ ही पति, ससुर एवं सास पर दहेज की मांग को लेकर प्रताडित करने एवं मारपीट किए जाने की शिकायत दर्ज कराई, जिस पर महिला ने बताया कि उसका विवाह अनिल सिंह पिता मदन सिंह निवासी ग्राम परासी के साथ वर्ष 2007 में हुआ था। जहां वर्ष 2018 में ससुराल के लोगो द्वारा दहेज की मांग को लेकर मारपीट करने लगा तथा 1 लाख रूपए की मांग की गई थी। जहां रूपए नही देने पर उसे ससुर मदन सिंह एवं सास ठुमन वती रात भर घर से बाहर निकाल देते थे इस बीच न तो खाना दिया जाता और न ही उसे कपड़ा दिया जाता था। वहीं बाद में घर से भगा दिया गया है।
कार्यवाही की मांग पर दिए थे १ हजार
कार्यवाही की मांग को लेकर शिकायत करने पहुंची महिला बेवी सिंह ने शिकायत पत्र अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को दिया जहां अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ने जैसे ही शिकायत को पढऩे के लिए खोला तो शिकायत के अंदर से ५००-५०० के दो नोट निकले। जहां महिला से पूछे जाने पर उसने चाय नाश्ता के लिए रूपए देने की बात कही। जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा ने महिला को रूपए वापस करते हुए तत्काल ही भालूमाडा थाना प्रभारी को फोन कर महिला की शिकायत पर तत्काल ही कार्यवाही किए जाने की बात कही साथ ही थाना प्रभारी भालूमाडा मनोज दीक्षित को फटकार लगाते हुए थाने में फरियादियों से रूपए लिए जाने जैसे बातो को पूछताछ करते हुए महिला द्वारा दिए जा रहे 1 हजार रूपए की घटना पर भी फटकार लगाई।
भालूमाडा पुलिस पर उठे सवाल
जानकारी के अनुसार भालूमाडा थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम परासी से दहेज प्रताडऩा एवं मारपीट की शिकायत पर कार्यवाही नही किए जाने पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंची महिला द्वारा कार्यवाही करने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वैष्णव शर्मा को दिए जाने वाले १ हजार रूपए से भालूमाड़ा पुलिस पर कई सवाल खड़े हो गए है। जहां लगातार शिकायतो पर कार्यवाही नही किए जाने एवं लंबित प्रकरणो के साथ थाना पहुंच रहे फरियादी से रूपए लेना अशंकित समझा जा रहा है। जिसके कारण महिला द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच रूपए देने पर भालूमाडा पुलिस पर कई सवाल खड़े कर दिए है।


Popular posts
कोरोना वायरस के चलते घरों में सादगी से पूजा पाठ एवं हवन यज्ञ कर मनाये परशुराम जयंती-चैतन्य मिश्रा
Image
कोरोना वैक्सीन सभी लगवाएं स्वास्थ्य में कोई प्रभाव नहीं पड़ता- हिमांशु बियानी
Image
एसईसीआर मजदूर कांग्रेस बिलासपुर मंडल ने रेलवे बिलासपुर मंडल के 18 वर्ष से ऊपर रेल कर्मचारियों को रेल क्षेत्र में टीकाकरण कराने म.प्र.सी.एम. को लिखा पत्र
Image
अनूपपुर जिले में 19 अप्रेल तक लॉक डाउन बढ़ाया गया
Image
ग्रामीण अंचलों में हालात गंभीर है प्रशासन चेते नहीं तो स्थिति भयावह होगी-फुन्देलाल सिंह मार्को
Image