झुरही नदी में निर्माणाधीन बांध टूटने पर विधानसभा में उठा प्रश्र


कोतमा। कोतमा क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बेलियाबडी मे गुणवत्ता विहीन किए जा रहे निर्माणाधीन बांध टूट जाने के बाद ग्रामीणो ने कार्य की जांच तकनीकी विशेषज्ञो की टीम गठित कर जांच कराने की मंाग की गई है। जानकारी के अनुसार 26 करोड की लागत से हो रहे बांध निर्माण जहां हल्की बारिश में ढह गया जिसके कारण किसानो की भूमि जलमग्र होकर पूरी फसल बरबाद हो गई। जिस कारण बांध के घटिया निर्माण एवं निर्माण कार्य में हुए भ्रष्टाचार की पोल खुल गई। उक्त नव निर्मित बांध के टूटने से पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।


विधानसभा मे उठा प्रश्र


ग्राम बेलियाबडी के जोगीटोला मे देवघटा व झुरही नदी को बांधकर 26 करोड की लागत से सिंचाई हेतु बांध का निर्माण जल संसाधन विभाग द्वारा कराया जा रहा था। जहां गुणवत्ता विहीन किए गए निर्माण कार्य को लेकर बांध का एक हिस्सा टूट जाने के बाद कोतमा विधायक सुनील सराफ ने स्थल का निरीक्षण करते हुए मामले की जांच भोपाल से टीम कराए जाने का आश्वासन दिया गया साथ ही विधानसभा मे प्रश्र करते हुए जांच टीम गठित कर कार्यवाही की मांग की गई।