मप्र / विधानसभा से लेकर सड़क तक हंगामा बिजली के ज्यादा बिलों संबल योजना बंद करने और मॉब लिचिंग एक्ट को लेकर जमकर हंगामा,


भोपाल. विधानसभा में गुरुवार को भाजपा विधायकों ने बिजली के बढ़े हुए बिलों पर विधानसभा से लेकर सड़क तक हंगामा किया। इसके पहले संबल योजना बंद करने के विरोध में विपक्षी भाजपा ने हंगामा करते हुए सदन से वॉकआउट किया। भाजपा विधायकों ने मॉब लिचिंग एक्ट को लेकर भी भाजपा विधायकों ने जमकर हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया इस कानून के जरिए सरकार समाज को बांटना चाहती है। बिजली के ज्यादा बिलों को लेकर भाजपा कार्याकर्ताओं ने लोगों के साथ हाथों में बिजली के बढ़े हुए बिल लेकर विधानसभा का घेराव करने की कोशिश की, लेकिन उन्हें पहले ही रोक दिया गया। लोगों का आरोप है कि बिजली के 200 रुपए महीना किया गया था, लेकिन हमारे 5 हजार तक बिल आ रहे हैं।
स्मार्टफोन वितरण के मुद्दे पर स्थगित करनी पड़ी कार्रवाई इसके पहले पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की विद्यार्थियों को स्मार्टफोन वितरण योजना को लेकर मचे हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी, जिससे प्रश्नकाल भी नहीं चल सका। प्रश्नकाल के दौरान भाजपा विधायक चैतन्य कश्यप ने उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी से इस योजना के क्रियान्वयन के संबंध में पूछा। उन्होंने कहा कि प्राचार्यों के बीच इस योजना को लेकर असमंजस है और शासन का इस योजना को जारी रखने के बारे में क्या स्पष्ट मत है।
मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि ये योजना विद्यार्थियों को आधुनिक तकनीक से जोड़े रखने की थी, लेकिन मौजूदा सरकार का मत है कि 2100 या 2200 रुपये की राशि में किस गुणवत्ता का स्मार्टफोन आ पाता होगा। उन्होंने कहा कि शासन किसी अच्छी योजना के बारे में विचार कर रहा है। मंत्री ने ये भी कहा कि समय समय पर कई अखबारों ने वितरित स्मार्टफोन की गुणवत्ता पर सवाल उठाए। विभाग ने इन पर संज्ञान लिया है और अब इसकी जांच कराई जा रही है।
इसी मुद्दे पर पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया। शोरगुल और हंगामे के कारण अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने सदन की कार्यवाही पहले पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी। सदन के एकसुर में नेता प्रतिपक्ष भार्गव ने दोबारा ये मामला उठाते हुए कहा कि सरकार की ओर से प्रश्नों के उत्तर नहीं आ रहे।इसी बीच अध्यक्ष प्रजापति ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष पूरे सदन को उद्वेलित कर रहे हैं और शेष विधायकों के प्रश्न नहीं आ पा रहे हैं। इस दौरान भी पक्ष-विपक्ष का हंगामा लगातार जारी रहा।


Popular posts
राज्यपाल के कार्यक्रम में जनजाति समाज के लोगों के जीवन को खतरे में डालने कि इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्‍वविदयालय की साजिश .
Image
मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज, मंत्री बिसाहूलाल सिंह को भोपाल लेजाने अचानक पंहुचा हेलीकॉप्टर
Image
महामहिम राज्यपाल का जनजाति समुदाय की ओर से विधायक पुष्पराजगढ़ ने किया स्वागत जनसमस्याओं से कराया अवगत
Image
महात्मा गांधी, एवं स्व. श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर एक दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का आयोजन, बरगवां यूथ ब्रिगेड रही विजेता
Image
राजनीति और कानून का मिश्रित नंगा स्तरहीन नाच ? ‘‘लखीमपुर खीरी"
Image