बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघिन की मौत


उमरिया। बांधवगढ़ की सबसे उम्रदराज बाघिन का खिताब हासिल करने वाली बाघिन टी-23 ने बुधवार की शाम अंतिम सांसे ली। प्रबंधन के मुताबिक रूटीन चैकअप के बाद वन्य जीव चिकित्सक डॉ. नितिन गुप्ता एवं स्टाफ अपने अन्य कार्यों में व्यस्त थे, उसी दौरान बाघिन मौत हुई है। देर रात बाघिन की अवस्था में कोई परिवर्तन न होता देख कर्मचारियों ने बाघिन के मौत की खबर प्रबंधन को दी।बंधन के रिकार्ड के मुताबिक बाघिन T23 का जन्म वर्ष 2002 में हुआ था और बांधवंगढ़ में पर्यटकों के बीच यह काफी प्रसिद्ध बाघिन थी। तीन बार के प्रजनन में इसने पार्क को 9 बाघ दिए हैं जो आज बांधवंगढ़ में अपनी शोभा बढ़ा रहे हैं। बाघिन को मार्च महीने में टाइगर रिजर्व प्रबंधन ने धमोखर रेंज के दुब्बार बीट से रेस्क्यू कर घायल अवस्था में बठान इनक्लोजर में रखा था। 


Popular posts
भोपाल में सेना के ईएमई सेन्टर में 15 जवान संक्रमित,शहर में आज 206 नए केस मिले
जनप्रतिनिधियों और मुख्य नगरपालिका अधिकारी आपस में सामंजस्य स्थापित कर करे अनूपपुर का विकास : श्रीमती डॉक्टर प्रवीण त्रिपाठी
Image
जंगली सुअर के शिकार के लिए लगाए गए धारा प्रवाहित तार में फंसने से किसान हुई मौत
Image
शंकर बाबू की धर्मपत्नी दुलारी शर्मा के निधन पर आर्यवर्त ब्राह्मण महासभा के द्वारा दी गई श्रद्धांजलि
Image
प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू