बच्ची के साथ दुष्कर्म के दोषी बुजुर्ग को 20 साल की सश्रम कैद

मंदसौर। आठ साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के दोषी बुजुर्ग को 20 साल सश्रम कारावास सुनाया गया है। यह फैसला माननीय विशेष न्यायाधीश निशा गुप्ता मंदसौर ने सुनाया।24 मई 2019 को ग्राम कुचड़ौद में आठ साल की मासूम के साथ गांव के ही मन्ना लाल पिता भागीरथ कुमावत (70) ने चाकलेट देने के बहाने अपने घर पर बुलाकर दुष्कर्म किया था। माता-पिता शाम को खेत से घर आए, तब बालिका ने आपबीती सुनाई।मामले में 25 मई को अफजलपुर थाने में आरोपित के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया था। अनुसंधान के बाद पुलिस ने मामला न्यायालय में प्रस्तुत किया। न्यायालय ने दोषी को धारा 376एबी, भादवि में 20 साल सश्रम कारावास एवं पांच हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया गया है।


Popular posts
मध्यप्रदेश विधि और विधायी कार्य विभाग ने शहडोल के 4 बुढ़ार के 2, जैतपुर के 2 और जयसिंहनगर के 02 अधिवक्ताओ को नोटरी कार्य के लिए किया नियुक्त
Image
अन्नदाता एवं किसानों की समस्याओं से वाकिफ हूं-फुंदेलाल
Image
रेलवे मजदूर कांग्रेस मंडल कार्मिक अधिकारी से कर्मचारियों की समस्याओं पर की चर्चा और किया स्वागत
Image
कोरोना वालेंटियर दीवार लेखन के माध्यम से दूसरे डोज के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रहे!
Image
पत्रकारों के परिजनों की सहायता के लिये हमेशा तत्पर -- सोनिया मीणा
Image