बिजली कर्मचारियों के लंबित मांगो को लेकर करेंगे आंदोलन
 

अनूपपुर,। म.प्र. बिजली कर्मचारी महासंघ के प्रदेशव्यापी आव्हान पर अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई में बिजली कर्मचारियों व ठेके पर कार्यरत श्रमिकों की लंबित मांगो को लेकर विद्युत उत्पादन कर्मचारी संघ एवं भारतीय ठेका मजदूर द्वितीय चरण आंदोलन के तहत 22 अगस्त गुरूवार शाम ५ बजे पावर हाउस के मुख्यद्वार पर प्रदर्शन कर ऊर्जा मंत्री म.प्र. शासन भोपल के नाम 25 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन मुख्य अभियंता अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई के माध्यम से सौपेगे। मांगे में प्रदेश के सभी संविदा आऊट सोर्स कर्मियों, ठेका कर्मियो को नियमित करने एवं 62 वर्ष तक सेवा की नीति बनाई जाए, ६वें वेतनमान की ग्रेड पे संबंधी विसंगतियां दूर की जाए, बिजली कर्मचारियों को सातवें वेतनमान में मेट्रिक्स राज्य शासन के अनुरूप कर लाभ दिया जाए, पूर्व की भांति उच्चशिक्षा प्राप्त डिप्लोमा प्राप्त कर्मचारियों को कनिष्ठ अभियंता के पद पर नियुक्त किया जाए। मंडल कर्मियों की तरह कंपनी कैडर के कर्मचारियों-अधिकारियों को भी बिजली बिल में 50 प्रतिशत रियायत दी जाए, अवकाश नगदिकरण 240 दिन के स्थान पर 300 किए जाए, तृतीय उच्च वेतनमान की विसंगति दूर कर वेतन छतीसगढ़ विद्युत कंपनियों के समान दिया जाए, ठेके पर कार्यरत श्रमिकों को सुरक्षा उपकरण वेतन पर्ची, उपस्थिति पत्रक, बोनस का भुगतान कराना सुनिश्चित किया जाए, चचाई पावर हाउस में वर्षो से कार्यरत जिन ठेका श्रमिकों को ठेकेदार ने तानाशाही पूर्वक कार्य से निकाला दिया हैं उन्हें तत्काल कार्य पर लगाया जाए, तीसरे चरण में 9 सितंबर को मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को, चौथे चरण में कंपनी मुख्यालय स्तर पर प्रबंध संचालक के माध्यम से मुख्यमंत्री को तथा 5वें तथा आखिरी चरण में 15 अक्टूबर को भोपाल में रैली तथा प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौपेंगे। इसके बाद भी मांगो का निदान नही हुआ तो प्रदेश महासंघ बैठक कर 24 घंटे के नोटिस पर काम बंद हड़ताल का फैसला लिया जाएगा।

Popular posts
मध्यप्रदेश विधि और विधायी कार्य विभाग ने शहडोल के 4 बुढ़ार के 2, जैतपुर के 2 और जयसिंहनगर के 02 अधिवक्ताओ को नोटरी कार्य के लिए किया नियुक्त
Image
अन्नदाता एवं किसानों की समस्याओं से वाकिफ हूं-फुंदेलाल
Image
रेलवे मजदूर कांग्रेस मंडल कार्मिक अधिकारी से कर्मचारियों की समस्याओं पर की चर्चा और किया स्वागत
Image
कोरोना वालेंटियर दीवार लेखन के माध्यम से दूसरे डोज के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रहे!
Image
पत्रकारों के परिजनों की सहायता के लिये हमेशा तत्पर -- सोनिया मीणा
Image