अधीक्षण अभियंता के निजी सहायक को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार


जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने राजस्थान के चूरू जिले के सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता के निजी सहायक को ठेकेदार से 3000 रूपये की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि ब्यूरो के एक दल ने बुधवार को चूरू के सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता के निजी सहायक अशोक कुमार जोशी को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। जोशी ने परिवादी भंवर सिंह से उसके सी श्रेणी के ठेकेदार का अस्थाई पंजीयन को स्थाई करवाने के लिये पिछले एक वर्ष में किये गये कार्यो का विवरण व 46000 रूपये की राशि लौटाने के लिये कथित तौर पर तीन हजार रूपये की रिश्वत की मांग की थी। उन्होंने बताया कि शिकायत के सत्यापन के बाद आरोपी जोशी को परिवादी से तीन हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।