ऐसा कोई पैसा नहीं जो हम बिना टीआई के ले ले ; आरक्छक ने बदमाश की पत्नी से बोला


भोपाल /जहरखुरानी के मामले में पकड़े गए बदमाश की पत्नी से जीआरपी आरक्षक का रिश्वत मांगने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हआ है। जिसमें आरक्षक ने बदमाश की पत्नी से कहा कि ऐसा कोई पैसा नहीं जो हम बिना टीआई की मर्जी के ले लें। वीडियो में आरक्षक बदमाश की पत्नी से रकम लेते हुए दिख रहा है। मामले में आईजी रेल जयदीप प्रसाद ने आरक्षक को निलंबित करते हए एसपी रेल मनीष अग्रवाल को सौंपी है। जानकारी के मुताबिक बीते दिनों जीआरपी ने जहरखुरानी कर लूटने वाले की गैंग को गिरफ्तार किया था। इस मामले में एक आरोपी बदमाश रघराज भी गिरफ्तार था। उसे छुड़ाने के लिए रघुराज की पत्नी से जीआरपी आरक्षक विक्रम सिंह रघुवंशी रिश्वत मांग रहा था। रिश्वत मांगने का पूरा घटनाक्रम रेलवे स्टेशन के पास सड़क पर एक वीडियो में कैद हो गया है। जिसमें आरक्षक व बदमाश की पत्नी बात कर रहे है। बदमाश की पत्नी आरक्षक को 9 हजार रुपए रिश्वत के देने पहुंची थी। तीन दिन लेट हो जाने के कारण आरक्षकउससे 12 हजार की मांग रहा रहा था। आरक्षक का कहना था कि तीन हजार रुपए ब्याज के हो गए। बदमाश की पत्नी 9 हजार देने लगी, तो आरक्षक बोला कि बनिये की दुकान खोली है क्या? इस दौरान दोनों की बातचीत में देगा। आरक्षक ने कहा कि रकम कम मत देनाऐसा कोई पैसा नहीं, जो हम बिना टीआई की मर्जी के ले लें। करीब छह मिनट के वीडियो में एक गाड़ी को लेकर भी बात हुई। जिसमें आरक्षक ने बदमाश की पत्नी से कहा कि वह गाड़ी उसके पास है। उस संबंध में टीआई को नहीं पता है। वह दस दिन बाद उसे दे देगा


आरक्षक को निलंबित कर दिया गया है। जांच एसपी रेल करेंगे। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी। - जयदीप प्रसाद, आईजी रेल   


Popular posts
कोरोना वायरस के चलते घरों में सादगी से पूजा पाठ एवं हवन यज्ञ कर मनाये परशुराम जयंती-चैतन्य मिश्रा
Image
कोरोना वैक्सीन सभी लगवाएं स्वास्थ्य में कोई प्रभाव नहीं पड़ता- हिमांशु बियानी
Image
ग्रामीण अंचलों में हालात गंभीर है प्रशासन चेते नहीं तो स्थिति भयावह होगी-फुन्देलाल सिंह मार्को
Image
एसईसीआर मजदूर कांग्रेस बिलासपुर मंडल ने रेलवे बिलासपुर मंडल के 18 वर्ष से ऊपर रेल कर्मचारियों को रेल क्षेत्र में टीकाकरण कराने म.प्र.सी.एम. को लिखा पत्र
Image
अनूपपुर जिले में 19 अप्रेल तक लॉक डाउन बढ़ाया गया
Image