बहुमत साबित करने से पहले देवेंद्र फडणवीस ने दिया इस्तीफ़ा


महाराष्ट्र में तीन दिन की बीजेपी सरकार मंगलवार को गिर गई। सीएम देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस्तीफे का ऐलान किया और उसके बाद राज्यपाल भगत सिंह कोशयारी को इस्तीफा सौंप दिया है। इससे पहले उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने अपने पद से इस्तीफा दिया था। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को आदेश दिया है कि 27 नवंबर को विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करा कर बहुमत सिद्ध कराया जाए। शीर्ष अदालत के आदेश दिए जाने के बाद यह बात सामने आई है।महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि महाराष्ट्र के विधानसभा में बीजेपी को दिल खोलकर मतदान किया और बीजेपी को पूरा जनादेश दिया और सबसे बड़ी पार्टी बनाया। विधानसभा में जो एनसीपी के नेता थे उन्होंने हमसे चर्चा की और फिर हमने सरकार बनाई।देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि कल जो फ्लोर टेस्ट होना है उससे अजित पवार ने कहा कि मैं सरकार में शामिल नहीं हो सकता हूं। हमने पहले कहा था हमारे पास नंबर नहीं था।फडणवीस ने कहा कि इनका एजेंडा सत्ता में रहना है और उसके लिए इक्ट्ठा हुए हैं। हम अच्छे विपक्ष के रूप में काम करेंगे और लोगों की आवाज उठाएंगे। इतने विरोधाभास वाली सरकार कैसे चलेगी। दो पहिए वाला स्कूटर चलता है तीन पहिए वाला ऑटो चलता है लेकिन जब दो पहिए अलग जाएंगे तो सरकार कैसे चलेगी।