बिजली विभाग की लापरवाही की भेट चढ़ा लाइनमैन, करंट लगने से हुयी मौत


गुना /बिजली बिभाग  की लापरवाही से शनिवार को ककवासा गांव में बिजली कंपनी के एक लाइनमैन कमलेश गुर्जर निवासी विजयपुर की करंट लगने से मौत हो गई। उसे सकतपुर फीडर पर जंपर जोड़ने का काम सौंपा गया था। इसके लिए रुठियाई स्थित सब स्टेशन से बाकायदा परमिट भी जारी हुआ।इसके बावजूद लाइन चालू कर दी गई और 11 केवी के करंट से लाइनमैन की मौके पर ही मौत हो गई। घटना दोपहर को 2 बजे हुई और लाइनमैन का शव ढाई घंटे तक तारों पर लटका रहा। इस दौरान न पुलिस पहुंची न बिजली कंपनी के अधिकारी। करीब एक घंटे बाद पुलिस पहुंची ,बिजली कंपनी के अधिकारी तो पहुंचे ही नहीं। घटना के बाद  अब अधिकारी यह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि गलती लाइनमैन की ही थी। उनका कहना है कि उसे जिस लाइन पर काम करने का परमिट दिया गया था, वह उसकी जगह दूसरी लाइन पर काम करने लगा था। मृतक अपने घर में अकेला कमाने वाला थाऔर उसके दो और छोटे भाई हैं।घटना के बाद रुठियाई स्थित कंपनी कार्यालय पर ताला लटका मिला। खबर फैलते ही लाइन मैन के गांव विजयपुर और ककवासा से करीब एक हजार लोग एकत्रित हो गए। एक घंटे बाद पुलिस पहुंची तो उन्होंने उसे शव को नहीं उतारने दिया।लोगो का कहना था कि जब तक बिजली कंपनी के बड़े अधिकारी नहीं आएंगे तब तक वे शव को नहीं उतारने देंगे। ढाई घंटे तक चला गतिरोध कलेक्टर के संज्ञान में लेने पर टूटा । कलेक्टर के निर्देश पर तहसीलदार सिद्धार्थ भूषण मौके पर पहुंचे और उनके मनाने पर लोग माने।रुठियाई क्षेत्र के जेई रविंद्र जैन ने कहा कि जांच में यह बात सामने आ रही है कि लाइनमैन गलत खंभे पर चढ़ गया था। उसे दूसरी लाइन का परमिट दिया गया था।


 


Popular posts
चिकित्सा उपकरण खरीदी में धांधली में ई ओ डबल्यू ने दर्ज की एफ. आई. आर.
Image
जसवंत और गोलू के आगे रामनगर थाना नतमस्तक, चल रहा है खुलेआम सट्टा का कारोबार
Image
नही रहे दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मजदूर कांग्रेस बिलासपुर के महामंत्री के एस मूर्ति
Image
अनूपपुर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पं भगवती शुक्ला ने ली अंतिम सांस नम आंखों से लोगों ने दी अंतिम श्रद्धांजलि
Image
जिला जनसंपर्क अधिकारी की चल रही मनमानी के चलते अनिवार्य सेवानिवृत्त देने की मांग
Image