जान की बाजी लगाने को मजबूर हुए छात्र, जर्जर हो चुके भवन में चल रहा छात्रावास

शिक्षा प्राप्त करने मजबूरी में जर्जर भवन व गंदगी के बीचमें ५० छात्र रहने को मजबूर समस्याओं के अंबार से निताज दिलाने नही दिया जा रहा ध्यान



कोतमा/अनूपपुर , प्रदेश शासन द्वारा बच्चो में शिक्षा का गुणवत्ता बेहतर बनाने के लिए अनेको योजनाओं के माध्यम से लगातार प्रयासरत है। लेकिन कोतमा विधानसभा क्षेत्र के कई विद्यालय एवं छात्रावास के भवन जर्जर हो चुके है या फिर भवन विहीन है, तो कई विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के लिए बाउंड्रीवॉल तक नही बनाया गया। वहीं इन मुद्दो को क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने चुनाव में रखते हुए शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल एवं सडक़ को लेकर कई वादे किए गए थे, लेकिन १२ माह बीत जाने के बाद भी इन समस्याओं पर अब तक अमल नही किया गया है। नपा के वार्ड क्रमांक १० विकास नगर में कोतमा विधायक सुनील सराफ के निवास से कुछ ही दूरी पर संचालित ५० सीटर अनुसूचित जाति बालक छात्रावास का भवन की हालत जीर्णर्शीण हालत में होने एवं भवन के दीवालो में जगह-जगह आ रही दरारो, जर्जर शौचालय, विद्युत बोर्ड उखड कर टूटे हुए है। छात्रावास की जर्जर इस हालत पर प्रतिदिन छात्रावास के सामने से आने जाने के बाद भी कोतमा विधायक की नजर नही पड़ रही है। वहीं छात्रावास की जर्जर भवन की मरम्मत कराने को लेकर छात्रावास अधीक्षक द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों से लगातार पत्राचार की जा चुकी है। 
जर्जर  भवन में पढ़ रहे छात्र
जानकारी के अनुसार अनुसूचित जाति बालक छात्रावास का लोकापर्ण २ जुलाई १९९५ को पूर्व मंत्री एवं वर्तमान अनपूपपुर विधायक बिसाहूलाल सिंह द्वारा किया गया था। जहां भवन को बने २४ वर्ष बीत जाने के बाद अब तक इस भवन की मरम्मत के लिए किसी तरह का ध्यान नहीं दिया गा है। वहीं जर्जर भवन के कारण कक्षा ९वीं से १२वीं तक के अनुसूचित जाति के छात्र जर्जर भवन में शिक्षा लेने मजबूर है। 
समस्याओं पर पर नही ध्यान
छात्रावास मे व्याप्त समस्याओं पर भी किसी तरह का ध्यान नही दिया जा रहा है, जिसमें पानी के लिए छात्रों को परेशानी का सामना करना पडा रहा है। वहीं छात्रावास में पेयजल के लिए बोर से भी मिट्टीयुक्त गंदा पानी आ रहा है जिस पर वर्तमान में छात्रों को नगर पालिका के नलजल योजना के पानी से काम चलाया जा रहा है, उसमें भी पर्याप्त पानी नहीं मिल पा रहा है। मामले में विगत दिन कोतमा विधायक सुनील सराफ द्वारा छात्रावास का निरीक्षण किया गया था, जहां छात्रों ने विधायक को छात्रावास की सभी समस्याओं से अवगत कराते हुए समस्याओं के निदान की मांग की गई। 
इनका कहना है
मेरे द्वारा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को भवन मरम्मत का कार्य कराए जाने के लिए कई बार पत्राचार किया गया हैं साथ ही विधायक को भी मौखिक रूप से जानकारी दी गई है। 
मान सिंह, अधीक्षक अनु.जा.बा. छात्रावास कोतमा