रिटायर्ड जेल आई जी की बुजुर्ग पत्नी और साली को नौकरों की कैद से छुड़ाया



प्रदेश के सबसे शांत और सुन्दर कहे जाने वाले शहर  भोपाल में एक बार फिर सनसनीखेज वारदात सामने आई है। राजधानी के शाहजहांनाबाद इलाके में जेल विभाग से रिटायर आईजी की वृद्ध पत्नी और उनकी साली को नौकर-नौकरानी ने  बंधक बनाकर रखा और प्रताड़ित करते रहे। छह घंटे तक चले रेस्क्यू में पुलिस ने 25 ताले तोड़कर नौकर और नौकरानी से मुक्त कराया। पुलिस ने नौकर-नौकरानी के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।


भोपाल।रिटायर्ड जेल आई जी  की मौत के 15 साल बाद अकेली रह गई पत्नी और साली बंधक बनाने का मामला सामने आया है।​ भाई और पड़ोसियों की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बंधकों को छुड़ाने के के लिए 25 ताले तोड़ने पड़े। करीब 6 घंटे तक चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दोनों  को बाहर निकाल लिया। वहीं, सौतेला बेटा और बहु फरार है। इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।मिली जानकारी के अनुसार शाहाजानाबाद थाना इलाके में उस वक्त हड़कंप मच गया जब लोगों को पता चला कि पारिवारिक विवाद में बुजुर्ग आईजी की पत्नी को बंधक बना लिया है। खबर है कि घर के नौकर ने घर के बाहर ताला लगाकर बंद कर दिया था। वहीं, इसके पीछे सौतेले बेटे और बहु की साजिश बताई जा रही है। दोनों घटना के बाद से फरार है।बताया जा रहा है कि पड़ोसियों की सूचना के बाद पुलिस रिटायर्ड आईजी के घर पहुंची। जहां आरोपियों ने 25 ताले लगाकर अंदर कमरे में दोनों को बंद कर दिया था। जिसे तोड़ने के लिए पुलिस को करीब 6 घंटे लग गए। दोनों को सकुशल बाहर निकाला गया। पुलिस ने मामले को लेकर अभी तक स्पष्ट जानकारी नहीं दी है। फिलहाल अभी पुलिस मामले की जांच कर रही है।


Popular posts
समर कैंप के माध्यम से बच्चों के खेल की प्रतिभा के निखार लाने का उचित प्लेटफार्म है । पंकज जयसवाल
Image
अनुपपुर वालीबॉल टीम विजई रथ में सवार चैंपियनशिप प्रतियोगिता में अनूपपुर की पुरूष वर्ग की टीम ने दूसरे मैच में भी रतलाम को हराया
Image
गैर राजनीति वा चंदा रहित से ब्राम्हण बंधुओं में आई एकजुटता - पं. रामनारायण द्विवेदी
Image
आखिर हादसे के बाद ही सिस्टम की आँखे क्यों खुलती है ?
Image
जिले के वरिष्ठ पत्रकार के पिताश्री का निधन नेताओं एवं पत्रकारों ने दी शोक श्रद्धांजलि
Image