अंधविश्वास के साये में शासकीय कन्या विद्यालय वेंकटनगर


विद्यालय में अध्ययनतर छात्राओं के विचित्र व्यवहार एवं बेहोश होने की लगातार घटना से फैली अफवाह, जहां अभिभावको ने विद्यालय में भूत-प्रेत होने की अंधविश्वास को लकर छात्रा का झाड़-फूंक करा रहे है।



वेंकटनगर,अनूपपुर । जैतहरी जनपद के ग्राम पंचायत वेंकटनगर में संचालित शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में अध्ययनतर छात्राओं के अचानक क्लासरूम में बेहोश जाने व उनके असामान्य व्यवहार पर जहां अभिभावको ने विद्यालय में भूत-प्रेत होने की अंधविश्वास को लकर छात्रा का झाड़-फूंक करा रहे है। वहीं ग्रामीणो सहित अभिभावको के इस तरह से अंधविश्वास में फंसे होने पर स्कूल प्रबंधन भी आश्चर्यचकित है। जहां अभिभावक अपने छात्रा के स्कूल में असामान्य व विचित्र व्यवहार किए जाने की सूचना पर उपचार कराए जाने की जगह जबरन स्कूल परिसर में ही गुनिया व तांत्रिक को बुलाकर झाड़ फूंक कराए जाने की घटना तक घट चुकी है। वहीं स्कूल प्रबंधन व डॉक्टरो द्वारा अंधविश्वास में फंसे परिजनो को लगातार समझाईश देने के बाद भी उन्हे अपनी बच्चियों पर प्रेत का साया ही नजर आ रहा है। इस अफवाह में जहां आसपास संचालित प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयो में भी दिखाई दे रहा है, जहां अभिभावक डर से अपने अपने बच्चो के जेब में लौंग, काला धागा, नीबू सहित अन्य तांत्रिक सामग्री साथ में लेकर विद्यालय भेज रहे है। लगातार तीन से चार छात्राओं के साथ अलग-अलग दिन विद्यालय में अचानक विचित्र व्यवहार करते हुए बेहोश हो जाने की घटनाओं के बाद उनके परिजनो ने छात्राओं द्वारा किए जा रहे विचित्र व्यवहार को भूत-प्रेत से संबंध मान लिया है। वहीं ग्रामीणो का कहना है की विद्यालय में कक्षा ११ वीं के कला संकाय की तीन से चार छात्राओं के साथ विचित्र व्यवहार किए जाने के बाद उनके बेहोश जाने की घटना घटी है, जिसको लेकर ग्रामीण व अभिभाव विद्यालय प्रबंधन से कला संकाय के कक्षा ११वीं के कक्ष को बदलने की मांग की है। जबकि विद्यालय प्रबंधन द्वारा छात्रा के विचित्र व्यवहार कर उनके बेहोश हो जाने की घटना के बाद उपचार के लिए वेंकटनगर अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने छात्रा के सही समय में खान-पान नही करने तथा शारीर में कमजोरी होने का कारण बताया। २७ नवम्बर से लगातार वेंकटनगर कन्या स्कूल में अलग-अलग मामले सामने आए जहां कक्षा ११ वीं की तीन छात्रा अचानक बेहोश हो चुकी, जिसके बाद स्कूल प्रबंधन ने उन छात्राओं को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र वेंकटनगर में उपचार के लिए भर्ती भी कराया, लेकिन अंधविश्वास में फंसे ग्रामीण और परिजनो ने छात्रा के अचानक असामान्य व्यवहार किए जाने पर उपचार कराए जाने की जगह झाड़ -फूंक का सहारा ले रहे है। वहीं ४ दिसम्बर को भी कक्षा १० वीं की एक छात्रा स्कूल कक्ष में अचानक विचित्र व्यवहार करते हुए बेहोश हो गई। जिसकी जानकारी स्कूल प्रबंधन ने तत्काल परिजनो को दी गई। जहां परिजन ने विद्यालय पहुंच छात्रा का उपचार अपने स्तर से कराने की बात कहते हुए अपने साथ ले गए।शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय वेंकटनगर को ग्रामीणो ने अपने अंधविश्वास से भुतिया मान लिया है, गांव मं जनचर्चा है की विद्यालय परिसर के अंदर उन्होने नीबू, लाल चंदन व तंत्रमंत्र से संबंधित सामग्री देखे जाने का भी दावा किए है। अभिभावको का कहना है की २७ नवम्बर से विद्यालय की छात्राओं के साथ इस तरह घटनाएं अधिक होने लगी है। जिससे परेशान होकर अभिभावक वरिष्ठ नागरिक लाल गया प्रताप सिंह एवं उपसरपंच वेद प्रकाश पांडेय से मिलकर अपनी परेशानी बताई। जिसके बाद ३ दिसम्बर को लाल गया प्रताप सिंह, उपसरपंच वेद प्रकाश पांडेय एवं पंच योगेन्द्र सिंह विद्यालय पहुंच कर कक्ष का निरीक्षण किया तथा विद्यालय में जल्द ही बाउंड्रीवॉल बनवाकर परिसर को सुरक्षित करने का आश्वासन देते हुए अभिभावको को अंधविश्वास का भावना को निकालते हुए छात्राओं का सही उपचार किए जाने की समझाईश दी। 
इनका कहना है



एैसा कुछ भी नही है, पूर्व से कुछ छात्राओं की तबियत ठीक नही होने से उनकी तबियत खराब हुई है। जिन्हे उपचार के लिए हमारे द्वारा वेंकटनगर अस्पताल में उपचार कराया गया है। 
चंदन सोनी, प्राचार्य शा. कन्या उमा. विद्यालय वेंकटनगर



जो बच्चे आए थे, वें शारीरिक रूप से कमजोर थे, जिनका उपचार किया गया है। सही समय पर खान पान का ध्यान देने के लिए अभिभावको को समझाईश दी गई है।
डॉ. मुकेश द्विवेदी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र वेंकटनगर


Popular posts
हिंदी दिवस में हुआ भव्य आयोजन (महिलाओं के लिए किया गया हिंदी संवर्धन पर विशेष कार्यक्रम
Image
मंत्री बिसाहूलाल सिंह के प्रयासों से चोलना पड़ोर मार्ग में उच्च स्तरीय पुल निर्माण की मिली स्वीकृति
Image
रेलवे फ्लाईओवर ब्रिज निर्माण में हो रही देरी को लेकर पूर्व विधायक रामलाल रौतेल करेंगे अनिश्चितकालीन उपवास
Image
परासी - तितरीपोंडी,पसला- चरतरिया, धिरौल- पटना मार्ग निर्माण शीघ्र
Image
कोरोना अलर्ट/देश के नाम जारी सन्देश में PM का एलान रात 12 बजे के बाद पूरा भारत 21 दिन तक लॉकडाउन
Image