अतिक्रमण पर चला प्रशासन का जेसीबी



अतिक्रमण के खिलाफ जेसीबी का चला पंजा, दो स्थानो के दर्जनो दुकान हुए ध्वस्त,दैखल में प्रशासन ने १४ एकड़ शासकीय भूमि को कराया अतिक्रमणमुक्त
अनूपपुर। अनूपपुर-जैतहरी निर्माणाधीन सडक़ में  रोढ़ा बने अतिक्रमणकारियों के खिलाफ प्रशासन ने २१ दिसम्बर को जेसीबी का पंजा चला दिया है। जहां प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस की उपस्थिति में नगर के वार्ड क्रमांक ११ में हरि ओंमकार ताम्रकार का ७ शटरयुक्त दुकान, अभिषेक अग्रवाल की दुकान का चबुतरा एवं न्यायालय के पास एक दुकान को जेसीबी के पंजे से ढहाने की कार्यवाही की गई। अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए कोतवाली पुलिस के दो दर्जन जवानों ने मोर्चा संभाले हुए थे साथ ही आम लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की गई। वहीं एसडीएम कमलेश पुरी, तहसीलदार भागीरथी लहरें तथा नायब तहसीलदार मनीष सिंह के नेतृत्व में पीडब्ल्यूडी विभाग ने चिह्नित अतिक्रमणों को हटाने की कार्यवाही में जुटी रही। दुकानों के तोड़े जाने की कार्यवाही की खबर सुनते ही सडक़ पर हजारों की तादाद में लोग उपस्थित हो गए। इस दौरान सबसे पहले जीसीबी मशीन ने हरिओम ताम्रकार के आधा दर्जन से अधिक दुकानों को तोड़ दिया गया साथ ही न्यायालय के समीप एक अन्य बंद पड़े आवासीय परिसर के हिस्सा भी अतिक्रमण की चपेट में आने और लगातार नोटिस के बाद अतिक्रमण नही हटाने पर तोड़ दिया गया। जबकि अभिषेक अग्रवाल के आवासीय एवं दुकानो के सामने के चबूतरा को तोडक़र अतिक्रमणमुक्त कराया गया। जानकारी के अनुसार अतिक्रमण हटाने की इस कार्यवाही में अधिकांश ४-५ फीट का हिस्सा तोड़ा गया, जो सडक़ के साथ नाला निर्माण में बाधा बना हुआ था। विदित हो कि २० दिसम्बर को कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने प्रशासनिक अधिकारियों व पीडब्ल्यूडी विभाग सहित सडक़ निर्माण ठेकेदार के परियोजना मैनेजर के साथ सडक़ का निरीक्षण किया था। जिसमें कलेक्टर ने सालभर बाद भी अमरकंटक तिराहा से तुलसी महाविद्यालय अनूपपुर तक लगभग २ किमी लंबी सडक़ के निर्माण कार्य पूर्ण नहीं होने पर नाराजगी जताते हुए निर्माण में आ रही बाधा वाले स्थलों का निरीक्षण करते हुए स्वयं जायजा लेकर अधिकारियों को कार्यवाही के निर्देश दिए थे। जिसके बाद २१ दिसम्बर की सुबह प्रशासनिक अमला पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर सडक़ पर उतरते हुए अतिक्रमणकारियों से अतिक्रमण को मुक्त कराया गया। 
दैखल और पयारी गांव में भी अतिक्रमणकारियों पर कार्यवाही
एक ओर प्रशासन जहां नपाअनूपपुर में अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही दिन भर जारी रखी गई, वहीं जनपद पंचायत अनूपपुर के ग्राम पंचायत दैखल एवं पयारी में प्रशासन ने १६ एकड़ शासकीय भूमि को अतिक्रमणकारियों से मुक्त कराए जाने की कार्यवाही की गई है। जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत प्यारी, दैखल एवं ग्राम बांका में लगभग १०६ एकड़ शासकीय भूमि थी, जहां पर एनएच ४३ से लगे हुए १६ एकड़ शासकीय भूमि पर ग्राम पंचायत दैखल एवं प्यारी के स्थानीय लोगो ने उक्त भूमि पर कब्जा करना शुरू कर दिया था। जिसके बाद राजस्व निरीक्षक, पटवारी हल्का दैखल और पटवारी हल्का पयारी ने पहुंच कर अतिक्रमणकारियों से उक्त भूमि को खाली करवाया गया। वहीं दोनों गांवों के बीच सीमा विवाद को समाप्त करते हुए सीमा रेखा निर्धारित कर दी। जानकारी के अनुसार इससे पूर्व यहां सीमा को लेकर दोनों ग्राम पंचायत के लोगों का आपसी विवाद होता रहता था। 


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image