बीजेपी विधायक ने किया कांग्रेस विधायकों को तोड़ने का दावा

सागर| मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार अपने कार्यकाल का एक साल अगले कुछ दिनों में पूरा करने जा रही है|  इससे पहले बीना से भाजपा विधायक महेश राय के एक बयान ने कमलनाथ सरकार को फिर से मुश्किल में डाल देने का संकेत दिया है|  विधायक महेश राय ने खुले मंच से कांग्रेस पार्टी के 'असंतुष्ट विधायकों' को तोड़ने का दावा किया है. राय ने सागर में खुले मंच से कहा, 'अंकगणित के बहुत नजदीक हैं. कई विधायक जो मंत्री नहीं बने हैं, वे भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं| दो विधायक तो राजगढ़ के पास के हमारे संपर्क में हैं, बोल रहे हैं कि भाई कोई जुगाड़-तुगाड़ तो करो. मैंने बोला कि 10 हो जाओ आप लोग, 10 हो गए तो आप में मंत्री भी बन जाएंगे और मंत्री के साथ में जो कुछ और भी हो सकता है वो भी होगा|
        प्रदेश में पहले भी सरकार गिराने के कई दावे भाजपा के बड़े-बड़े नेता करते रहे हैं, लेकिन विधानसभा में फ्लोर टेस्ट के दौरान कांग्रेस अपना बहुमत साबित कर चुकी है. भाजपा के विधायकों ने कांग्रेस के पक्ष में क्रॉस वोटिंग की थी. उसके बाद से सरकार गिराने की बातों पर विराम लग गया था. लेकिन अब एक बार फिर से बीना विधायक महेश राय ने कांग्रेस विधायकों के उनके संपर्क में होने की बात कह सियासत को हवा दे दी है| 


भाजपा विधायक का कहना है कि राजगढ़ के पास के दो विधायक उनसे लगातार बातचीत कर रहे हैं. ऐसे में भाजपा विधायक ने कांग्रेस विधायकों को यह सलाह दी है कि अगर वे 10 से ज्यादा विधायकों को साथ ले लें, तो कुछ हो सकता है. भाजपा विधायक यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी लगातार कांग्रेस से नाराज देखे जा रहे हैं| केपी सिंह भी अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं|