कैदी को सुविधाएं देने के लिए मांगी 2 लाख की घूस, एसीबी ने 10 हजार लेते पकड़ा

खास ख्याल रखने के बदले में घूस की रकम ली जा रही थी।  2 लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई। मगर सौदा 50 हजार में पक्का हुआ था।



कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में जेल प्रशासन के एक अधिकारी को एंटी करप्शन ब्यूरो ने रंगे हाथ पकड़ा। कटघोरा उपजेल के प्रहरी डीएस परिहार का दावा था कि वह जेल के अंदर बंद कैदी को सारी सुविधाएं दिला सकते हैं। इसके एवज में इन्होंने 2 लाख रुपए घूस के मांगे। एक बंदी की पत्नी से 10 हजार रुपए लेते बुधवार को इन्हें पकड़ लिया गया। डीएस परिहार दोपहर के वक्त घूस की रकम लेने कटघोरा में एसबीआई बैंक एटीएम के पास पहुंचे थे। ठगी के आधा दर्जन से अधिक मामले में कटघोरा उपजेल में बंद शंकरलाल रजक का खास ख्याल रखने के बदले में घूस की रकम ली जा रही थी। शंकर की पत्नी रोहिणी रजक से 2 लाख रुपए की रिश्वत मांगी गई। मगर सौदा 50 हजार में पक्का हुआ था। इसकी जानकारी महिला ने एसीबी को दे दी। 


Popular posts
मंत्री बिसाहूलाल सिंह के प्रयासों से चोलना पड़ोर मार्ग में उच्च स्तरीय पुल निर्माण की मिली स्वीकृति
Image
भाजपा ने गुजरात में भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री पद पर नियुक्त कर इतिहास रचा।
Image
हिंदी दिवस में हुआ भव्य आयोजन (महिलाओं के लिए किया गया हिंदी संवर्धन पर विशेष कार्यक्रम
Image
परासी - तितरीपोंडी,पसला- चरतरिया, धिरौल- पटना मार्ग निर्माण शीघ्र
Image
रेलवे फ्लाईओवर ब्रिज निर्माण में हो रही देरी को लेकर पूर्व विधायक रामलाल रौतेल करेंगे अनिश्चितकालीन उपवास
Image