रेलवे सायडिंग से कोयले की खुलेआम चोरी


अवैध ईट-भट्ठों  एवं होटलो में खपाया जा रहा अवैध कोयला
कोतमा, अनूपपुर । जमुना-कोतमा क्षेत्र अंतर्गत आने वाले कोयला खदानो से कोयला परिवहन कर वाहनो के माध्यम से गोविंदा रेलवे सायडिंग तक पहुंचाया जाता है, जहां पर आसपास के आसामजिक तत्वो द्वारा रेल के बैगनो से कोयला चोरी कर उसे बोरियो मे भरकर पैदन, साईकिल दो पहिया एवं बडे वाहनो के माध्यम से नगर व आसपास के क्षेत्रो में संचालित ढाबा, होटलो एवं अवैध ईट-भट्ठों मे खपाया जा रहा है। 
कॉलरी एवं रेल प्रबंधन उदासीन
सायंडिग एवं रेल के बैगनो से कोयला चोरी मे कॉलरी प्रबंधन एवं संबंधित विभाग की लगातार उदासीनता के कारण आसामाजिक तत्वो द्वारा कोयला चोरी का कारोबार तेजी से किया जा रहा है, जिससे कारण कॉलरी सहित रेलवे प्रबंधन को अर्थिक क्षति पहुंच रही है। कोयले का अवैध चोरी रोकने के लिए कई बार नगर के जनप्रतिनिधियो एवं नागरिको द्वारा रेलवे के उच्च अधिकारियो सहित प्रशासन से चोरी पर रोक लगाने की मांग की गई। लेकिन कार्यवाही के अभाव के कोयला चोरो के हौसले लगातार बुलंद होते जा रहे है। 
सुरक्षा कर्मचारियो से सांठगांठ
गोविंदा सायडिंग मे प्राइवेट सुरक्षा कर्मचारियो की सह पर एवं मालगाडियो से कोयला चोर गिरोह द्वारा खुलेआम कोयला चोरी कर उन्हे अवैध ईटा भ_ो मे खपाया जाता है। वहीं रेलवे बैगनो मे चढकर कोयला चुराने के दौरान प्राइवेट सुरक्षा गार्ड को भी देखा गया। इतना ही नही बैगनो में चढक़र कोयला उतारते समय कई दुर्घटनाएं भी घटी जिसमें कई लोगो जाने भी जा चुकी है, बावजूद इसके रेलवे सुरक्षा बल की उदासीनता व लापरवाही के कारण बैगनो से कोयला चोरी में अब तक किसी तरह की कोई कमी नही आ सकी है। 


खाना पूर्ति बनी कार्यवाही
जानकारी के अनुसार अवैध ईट भ_ो में प्रयोग किए जा रहे चोरी के कोयले, पानी व मिट्टी के उपयोग की लगातार शिकायत होती रही है, जिस पर प्रशासन द्वारा सिर्फ दिखावे के लिए छोटे मोटे ईट भ_ो पर कार्यवाही कर अपना कागजी कोरम पूरा कर लेते है। नदी तालाबो के आसपास इन भ_ो का संचालन खुलेआम होने पर नाममात्र की कार्यवाही की जाती है। जिससे आमजन में असंतोष व्याप्त है। 


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image