डाटा एंट्री ऑपरेटर और चपरासी रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त ने किया ट्रैप


डबरा। लोकायुक्त टीम ने बुधवार को कार्यवाही करते हुए जनशिक्षा केंद्र में पदस्थ डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं चपरासी को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया  लोकायुक्त ने यह कार्यवाही समूह संचालक के शिकायत के बाद की  जानकारी के अनुसार वह दोनों खाद्यान कूपन के रिकॉर्ड देने के बदले में यह रिश्वत मांग रहे थे देवरा गांव के बजरंग स्वसहायता समूह संचालक के बेटे ब्रजेन्द्र रावत ने खाद्यान कूपन का रिकॉर्ड मांगा था।जन शिक्षा केन्द्र में पदस्थ डेटा कम्प्यूटर ऑपरेटर एवं चपरासी धर्मेंद्र पाठक ने रिकॉर्ड देने के बदले बृजेन्द्र से तीन हजार की रिश्वत देने के लिए कहा, रिश्वत की मांग से परेशान बृजेन्द्र ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की थी।शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त पुलिस ने केमिकल लगे रूपए देकर फरयादी बृजेन्द्र रावत को जन शिक्षा केन्द्र भेजा | जैसे ही विजेन्दर ने डेटा एंट्री कम्प्यूट ऑपरेटर व चपरासी को रिश्वत की रकम दी,लोकायुक्त टीम ने आरोपियों को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image