ग्‍वालियर सेंट्रल जेल में पास्को के आरोपित ने लगाई फांसी

घटना की प्राथमिक  जांच में निगरानी में तैनात मुख्य प्रहरी ओमप्रकाश सुमन सहित तीन प्रहरियों को निलंबित कर दिया है और मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दे दिये गए हैं



ग्वालियर/शहर की सेंट्रल जेल में  गणतंत्र दिवस की शाम  को दुष्कर्म व पास्को एक्ट के मामले में न्यायिक हिरासत में निरूद्ध विचाराधीन बंदी नरोत्तम रावत ने तौलिया की रस्सी बनाकर  फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 2 दिन पहले ही युवक को बालिग होने पर बाल सुधार गृह से सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया था। युवक का नाम नरोत्तम रावत है और वह ग्वालियर जिले के ईंटमा गांव का निवासी है।शुरूआती जांच में बैरक नंबर-9 की निगरानी के लिए तैनात मुख्य प्रहरी ओमप्रकाश सुमन सहित तीन प्रहरियों को निलंबित कर दिया है। बंदी की मौत का वास्तविक कारण पता लगाने के लिए मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिये हैं।1 जनवरी को युवक नरोत्तम रावत पर करहिया थाना पुलिस ने पाक्सो एक्ट के तहत नाबालिग के साथ दुष्कर्म और अपहरण का केस दर्ज किया था। 2 दिन बाद 3 जनवरी को आरोपी खुद थाने में हाजिर हो गया था। चूंकि वह नाबालिग था, इसलिए उसे बाल सुधार गृह भेज दिया गया था। बालिग होने पर शुक्रवार को उसे बाल सुधार गृह से सेंट्रल जेल शिफ्ट किया गया था। 


Popular posts
परिवारवाद’’,’’वंशवाद’’,’’भाई-भतीजावाद-चाचा-भतीजावाद’’ ’’अधिनायकवाद’’ एवं ’’जातिवाद’’! *लोकतंत्र के लिए खतरनाक? कैसे! कब! और क्यों? निदान!
Image
18 मई को दद्दाजी की प्रथम पुण्यतिथि में शिष्य मंडल जरूरतमंद स्थानों पर भोजन पैकेट का वितरण करेगा
Image
मिलावटखोरों पर कहर , अफसरों को मंत्री के निर्देश, रासुका  की तयारी 
Image
लॉकडाउन के दौरान अनुपपुर में शराब के लिए महुआ का  परिवहन  जोरो पर, धारा 144 का उलंघन
Image
गुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या से सनसनी, काले हिरण के शिकारियों ने रात में मारी गोली
Image