कांग्रेस विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ देंगे धरना

कांग्रेस विधायक ने कमलनाथ को चिट्ठी लिखी कहा ,शनिवार को विधानसभा भवन के बाहर गांधी प्रतिमा सामने धरने पर बैठूंगा, मेरी सुनी नहीं जा रही है सत्तादल का होने के बाद भी गरीबों के घर पर बुलडोजर चलते देख रहा हूं



ग्वालियर पूर्व से कांग्रेस विधायक मुन्नालाल गोयल  ने मुख्‍यमंत्री कमलनाथ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्‍होंने सीएम को एक चिट्ठी लिखी है जिसमें अपनी नाराजगी जाहिर की है. इस चिट्ठी में गोयल ने गरीबों पर कड़ाके की ठंड में बुलडोजर चलाए जाने से लेकर भूमिहीन गरीबों को पट्टे देने के कांग्रेस के वचन की कमलनाथ को याद दिलाई है. इतना ही नहीं मुन्नालाल गोयल ने विधायकों के क्षेत्र में काम ना होने को लेकर भी अपनी नाराजगी जाहिर की है. उनकी मानें तो ना मुख्यमंत्री और ना ही मंत्रियों के पास विधायकों की समस्या सुनने की फुर्सत है. यही वजह है कि अब मुन्नालाल गोयल विधानसभा की कार्रवाई का बहिष्कार करने के बाद 18 जनवरी को विधानसभा परिसर में गांधी प्रतिमा के नीचे धरने पर बैठेंगे,विधायक गोयल का दो पेज का मुख्यमंत्री को लिखा पत्र सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है।  पत्र सीएम कमलनाथ को संबोधित करते हुए लिखा है कि वे पांच वर्षों तक आपके नेतृत्व में सरकार के साथ खड़े रहेंगे, यह संकल्प है, लेकिन अपने क्षेत्र की जनता के हितों के लिए विधायक बनने से पहले भी गांधीवादी तरीके से लडाई लड़ता रहा हूं। गरीब भूमिहीन परिवारों को पट्टे देने के सवाल पर सदन के अंदर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव से लेकर पत्र के माध्यम से कई बार आपका ध्यान आकर्षित करा चुका हूं। जबकि राज्य सरकार ने अपने वचनपत्र में राज्य के गरीब भूमिहीनों को आवास हेतु पट्टा देने का वचन दिया है। फिर वचन का पालन करने में देरी क्यों। उन्होंने कहा कि लेकिन आपको विधायकों की समस्या सुनने की फुरसत नहीं है ,आप पर काम के बोझ को मैं महसूस करता हूं। लेकिन जिस जनता ने मुझे विधायक चुना है, उसके हितों का ख्याल रखना मेरा फर्ज है। पिछले छह माह में माननीय मुख्यमंत्री जी से लेकर संबंधित मंत्रियों को कई बार पत्र दे चुका हूं। लेकिन समस्याएं जस की तस हैं। इसलिए आपको जगाने के लिए दिनांक 17-01-2020 के विधानसभा सत्र की कार्यवाही का बहिर्गमन कर रहा हूं। आपको पत्र के माघ्यम से निम्न बिंदुओं पर पुन: ध्यानाकार्षित कर रहा हूं।


ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के तहत पिछले 20 साल से निवास कर रहे 12100 गरीब भूमिहीन परिवारों को पट्टे देने हेतु संलग्न सूची अनुसार डीएम ग्वालियर को आदेश प्रदान करें.
मध्य प्रदेश में 2014 भाजपा राज्य में भूमिहीनों को पट्टे देने के लिए जो सर्वे किया गया था, इस सर्वे को निरस्त कर भूमिहीन गरीबों को पट्टे देने हेतु दोबारा सर्वे आदेश प्रदान करें.
ग्वालियर में एडीएम अनूप सिंह द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार करने की शिकायतें आ रही हैं. इसलिए इसे तत्काल ट्रांसफर किया जाए.
मुरार नदी के संरक्षण और रिंग रोड बनाने के प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की जाए
विधायकों की समस्याओं का निराकरण करने के लिए 15 दिन में एक बार प्रत्येक संभाग के विधायकों को बुलाकर विकास कार्यों की समीक्षा की जाए.



Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image