लोकायुक्त ने महिला पटवारी को 2000 की  रिश्वत लेते रंगे हाथ पकडा


महिला पटवारी ने  आवेदक किसान से  कृषि भूमि के नामांतरण को ऑनलाइन करने के एवज में मांगे थे रुपए


खंडवा /हरसूद में किसान से अपनी कृषि भूमि को नामंत्रण को ऑनलाइन करने के लिए पटवारी को रिश्वत लेना महंगा पड़ गया , इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी को 2000 रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है , आवेदक राहुल के पिता रामजीवन बांके के नाम से ग्राम निसानिया में खसरा 19 / 1 रकबा 0 . 48 हेक्ट की कृषि भूमि है जिसे स्वयं के नाम पर नामांतरण कराने हेतु तहसील कार्यालय हरसूद आवेदन पत्र दिया गया था जिसकी पावती तैयार कर पटवारी द्वारा आवेदक  को  दे दी गई , लेकिन उक्त पावती को ऑनलाईन नहीं चढाया गया , उक्त पावती को ऑनलाईन चढाने के लिये आवेदक 30 नवम्बर 2019 को पटवारी मैडम से मिला तो उनके द्वारा आवेदक का कार्य करने के एवज में उससे 2500  रू0 की रिश्वत की मांग की  जा रही थी । जिसकी शिकायत फरियादी राहुल बांके द्वारा लोकायुक्त कार्यालय इंदौर में पुलिस अधीक्षक महोदय को की गई थी जिस पर आज ट्रेप दल दवारा  आयोजन कर आज दिनांक 20 . 01 . 2020 को तहसील कार्यालय हरसूद जिला खंडवा में पटवारी श्रीमती कंचन तिवारी को आवेदक राहुल बांके से 2000  रू0 की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथो पकडा गया ।


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image