श्रीलंका में कमलनाथ सरकार बनवाएगी सीता माता का भव्य मंदिर


भोपाल/कमलनाथ सरकार  श्रीलंका  में भव्य सीता मंदिर  बनवाएगी. इसके लिए सरकार ने योजना बनाने का अफसरों को निर्देश दिया है. भोपाल  में हुई एक बैठक में सीएम कमलनाथ  ने अफसरों को ये निर्देश दिया. मंदिर निर्माण के लिए मध्यप्रदेश  और श्रीलंका के अधिकारियों की एक समिति भी बनायी जाएगी. ठीक उस जगह पर मंदिर बनेगा, जहां कहा जाता है कि सीता माता को वहां रखा गया था.सरकार ने इस मंदिर के लिए अगले बजट सत्र में अलग से राशि रखी जाएगी. सोमवार को मंत्रालय में हुई एक बैठक के दौरान मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि श्रीलंका में भव्य सीता माता मंदिर का निर्माण किया जाएगा। निर्माण के संबंध में मध्यप्रदेश और श्रीलंका के अधिकारियों की एक समिति बनायी जाएगी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये हैं कि मंदिर निर्माण और साँची में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का बौद्ध संग्रहालय, अध्ययन एवं प्रशिक्षण केन्द्र बनाने के लिए शीघ्र ही योजना बनाएं और उसका क्रियान्वयन करें। श्री कमल नाथ आज मंत्रालय में जनसम्पर्क मंत्री श्री पी.सी. शर्मा के नेतृत्व में पहुँचे महाबौद्धी सोसायटी के प्रतिनिधि-मंडल के साथ हुई बैठक में चर्चा कर रहे थे। बैठक में महाबौद्धी सोसायटी अध्यक्ष श्री बनागला उपतिसा भी उपस्थित थे।मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि श्रीलंका में सीता मंदिर के भव्य निर्माण के लिए शीघ्र ही एक समिति बनाएं, जिसमें मध्यप्रदेश एवं श्रीलंका सरकार के अधिकारियों के साथ महाबौद्धी सोसायटी के सदस्य भी शामिल हों। यह समिति मंदिर निर्माण के कार्यों पर सतत् निगरानी रखेगी, जिससे समय सीमा में मंदिर का निर्माण हो सके। उन्होंने कहा कि मंदिर के डिजाइन को अंतिम रूप दिया जाए और इसके लिये इसी वित्तीय वर्ष में आवश्यक धन राशि भी उपलब्ध करवाई जाए, जिससे मंदिर का निर्माण शीघ्र हो सके।


 


Popular posts
नवगठित नगर परिषद पर मंत्री को गुलदस्ता भेंट कर क्षेत्र वासियों की तरफ से दी बधाई
Image
गुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या से सनसनी, काले हिरण के शिकारियों ने रात में मारी गोली
Image
कोतमा विधायक के बयानों को लेकर भाजपा ने की सामान्य प्रेक्षक से शिकायत  
Image
टैक्सी यूनियन ड्राइवर संघ अनूपपुर का गठन चैतन्य मिश्रा संरक्षक संजय चौधरी अध्यक्ष बने
Image
अतिक्रमण से पटा पूरा शहर सुर्खियों में आने नपा. ने हटाया मेन रोड का अतिक्रमण फिर सज गई सड़कों पर वही दुकाने
Image