मप्र बीजेपी के नये अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में पदभार ग्रहण किया




भोपाल /मध्य प्रदेश बीजेपी  के नये अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा  ने पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में अपनी नयी ज़िम्मेदारी संभाल ली.विष्णुदत्त शर्मा को निवृत्तमान प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कार्यभार सौंपा। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सांसद प्रभात झा, पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी और नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव सहित अन्य नेता मौजूद थे। इस मौके पर निवृत्तमान प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि यह भाजपा में ही संभब है कि ऐसे मौके भी उत्सव के रूप में मनाए जाते हैं।शिवराज सिंह चौहान ने कहा वी डी शर्मा के पद संभालते ही मौसम बदल रहा है. मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष पद पर जीत के साथ ही सिलसिला शुरू हो गया है ,इस अवसर पर विष्णुदत्त शर्मा  ने कहा कि मैंने माता-पिता का आशीर्वाद लेकर इस यात्रा की शुरुआत कर दी है। उन्होंने दवा किया कि जौरा, आगर-मालवा विधानसभा उपचुनाव कोई चुनौती नहीं है। इसके साथ नगरीय निकाय व पंचायत चुनाव भाजपा जीतेंगी, क्योंकि चुनाव पार्टी का बूथ, मंडल व जिले का कार्यकर्ता लड़ता है। हमारा कार्यकर्ता 24 घंटे एक्टिव रहता है।शर्मा ने कहा कि प्रदेश की जनता समझ चुकी है कि प्रदेश में कांग्रेस ने छल और कपट से लोगों के वोट हासिल कर सरकार बनाई है। सरकार पर हमला बोलते हुए नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा शासनकाल में शुरू की गई जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया गया है। केंद्र सरकार की योजनाओं को बंद किया जा रहा है। यह सरकार गरीबों का हक मारी है। ऐसी सरकार का क्या हश्र होगा, इस संबंध में मुझे कुछ कहने की आवश्यकता नहीं हैं।इससे पहले सोमवार दोपहर शताब्दी एक्सप्रेस से ग्वालियर से भोपाल आए शर्मा का हबीबगंज रेलवे स्टेशन पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। स्वागत के लिए स्टेशन पर हजारों की संख्या में कार्यकर्ता पहुंचे। भाजपा कार्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान समेत अन्य वरिष्ठ नेताओं ने नए भाजपा अध्यक्ष का स्वागत किया। यहां शर्मा ने सबसे पहले पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। शर्मा के साथ  महपौर अलोक शर्मा , विश्वाश सारंग और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की पुत्रवधू और विधायक कृष्णा गौर भी थीं। शर्मा को मई 2019 में भोपाल सीट से लोकसभा चुनाव लड़ाने की चर्चा चली थी, तब बाबूलाल गौर ने कहा था कि ये विष्णुदत्त शर्मा कौन है, मैं इसे नहीं जानता। उस समय शर्मा का विरोध करने वाले नेता उनके अध्यक्ष बनते ही साये की तरह साथ नजर आए। 


 भीड़ से आम आदमी परेशान हुए


हबीबगंज स्टेशन पर भाजपाइयों की भीड़ से यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। 7 नंबर भाजपा कार्यालय की ओर से स्टेशन जाने वाले यात्री ट्रैफिक जाम में फंस गए। हालांकि कई यात्रियों ने भीड़ को देखते हुए ई-2 अरेरा कॉलोनी के अंदर से और गणेश मंदिर का चक्कर काटते हुए स्टेशन पहुंचे। 


 


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image