भाजपा विधायक शरद कॉल का इस्तीफा मंजूर


भोपाल/मध्य प्रदेश में जारी सियासी महासंकट परबीजेपी विधायक  शरद कोल के इस्तीफे पर स्पीकर प्रजापति ने मुहर लगा दी है  कोल 6 मार्च को इस्तीफा देकर गए थे. उसके बाद 17 मार्च को  स्पीकर के  दफ्तर में आए और पत्र छोड़कर गए जिसमें लिखा है कि मैंने दबाव और विपरीत स्थिति में इस्तीफा दिया था., स्पीकर एन पी प्रजापति ने कहा कि बागी विधायक मुझसे नहीं मिले. मैं निष्पक्ष हूं. मेरी जानकारी में जो बात लायी जाती है उस पर कार्रवाई करता हूं. आरोप तो भगवान राम और सीता पर भी लगा दिए गए थे.स्पीकर ने कहा बीजेपी विधायक शरद कोल का इस्तीफा मंजूर किया जा चुका है.स्पीकर प्रजापति ने कहा-सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश दिया उसका पालन किया जा रहा है. मेरे इस्तीफे स्वीकार करने की कोई भी सीमा हो सकती है. गुरुवार रात 16 बागी विधायकों के इस्तीफे स्वीकार किए गए. 


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image