कोरोना अलर्ट /पुलिस ने 101 दिन बाद शाहीन बाग प्रदर्शन स्थल को कराया खाली,

कोरोनावायरस के प्रकोप को देखते हुए नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के खिलाफ दिल्ली के शाहीनबाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन को पुलिस ने खत्म करा दिया है. दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग के बंद पड़े रास्ते को खोल दिया है.कुछ प्रदर्शनकारियों को आदेश नहीं मानने की वजह से हिरासत में लिया गया है.



कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दिल्ली में पूरी तरह से लॉकडाउन है। शहर में धारा 144 लगाई गई है। दिल्ली पुलिस ने लॉकडाउन के बीच शाहीन बाग में बैठे प्रदर्शनकारियों को हटा दिया है। शाहीन बाग में लगे टेंट-तख्तों को भी हटा दिया गया है। जिन प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन स्थल को खाली कराने का विरोध किया, उन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है।शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ जारी प्रदर्शन को तीन महीने से ज्यादा का समय बीत चुका था। 15 दिसंबर 2019 से नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू किया गया था। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि सीएए संविधान और देश की जतना के खिलाफ है। वे केंद्र की मोदी सरकार से सीएए को वापस लिए जाने की मांग कर रहे थे। सीएए प्रदर्शनकारी केंद्र सरकार से इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए भी तैयार थे, लेकिन इन तीन महीनों में एक बार भी मोदी सरकार की ओर से बातचीत की पहल नहीं की गई। हालांकि इस बीच सुप्रीम कोर्ट ने इसका हल निकालने कोशिश जरूर की, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला। सुप्रीम कोर्ट में यह मामला लंबित है। इस बीच शाहीन बाग प्रदर्शन को कोरोना वायरस का हवाला देते हुए पुलिस ने खत्म करा दिया है।


 


 


 


Popular posts
हिंदी दिवस में हुआ भव्य आयोजन (महिलाओं के लिए किया गया हिंदी संवर्धन पर विशेष कार्यक्रम
Image
मंत्री बिसाहूलाल सिंह के प्रयासों से चोलना पड़ोर मार्ग में उच्च स्तरीय पुल निर्माण की मिली स्वीकृति
Image
रेलवे फ्लाईओवर ब्रिज निर्माण में हो रही देरी को लेकर पूर्व विधायक रामलाल रौतेल करेंगे अनिश्चितकालीन उपवास
Image
परासी - तितरीपोंडी,पसला- चरतरिया, धिरौल- पटना मार्ग निर्माण शीघ्र
Image
कोरोना अलर्ट/देश के नाम जारी सन्देश में PM का एलान रात 12 बजे के बाद पूरा भारत 21 दिन तक लॉकडाउन
Image