म प्र विधानसभा 26 मार्च तक के लिए स्थगित


 


भोपाल। मध्यप्रदेश में सियासी घमासान के बीच विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने के बाद । राज्यपाल लालजी ने टंडन विधानसभा में अपना अभिभाषण पूरा नहीं पढ़ा और विधायकों से कहा कि सभी शांतिपूर्वक तरीके से अपने दायित्वों का पालन करें। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल को फिर चिट्ठी लिखी है जिसमें शक्ति परीक्षण न कराने की मांग की गई है।महामहिम का भाषण खत्म होते ही बीजेपी विधायकों ने टोका-टाकी शुरू कर दी. महामहिम अपना भाषण खत्म कर वापस रवाना हो गए. सदन में इसके बाद हंगामा शुरू हो गया.उसके बाद दोनों पक्षों की ओर से सदस्य नारेबाज़ी करने लगे. हंगामे को देखते हुए स्पीकर ने सदन की कार्यवाही  26 मार्च तक के  लिए स्थगित कर दी गयी


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image