इंदौर में डॉक्टरों की टीम पर पथराव करने वाले 7 गिरफ्तार


इंदौर/मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोनावायरस संक्रमण से प्रभावित लोगों का सर्वेक्षण करने पहुंचे स्वास्थ्यकर्मी और सुरक्षा कर्मियों की टीम पर पथराव करने के मामले में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना के विरुद्घ लड़ाई में बाधा बनने वालों पर सख्त कार्रवाई की बात कही है। इंदौर के पुलिस उप महानिरीक्षक हरी नारायण चारी मिश्रा ने गुरुवार को आईएएनएस को बताया कि रानीपुरा के टाटपट्टी बाखल इलाके में बुधवार को सरकारी अमले के दल पर कुछ लोगों ने पथराव कर दिया था। इन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किए जाने के बाद उनकी तलाश की गई और हमलावरों में से सात को गिरफ्तार कर लिया गया है। बुधवार को राजस्व, स्वास्थ्य, महिला बाल विकास विभाग और पुलिस का अमला कोरोनावायरस के संक्रमण का सर्वेक्षण करने निकला था। यह दल जैसे ही टाटपट्टी बाखल इलाके में पहुंचा लोगों ने पहले दल को खदेड़ा और फिर पथराव कर दिया। किसी तरह सरकारी अमले के कर्मचारी अपनी जान बचाकर भागे। आरोपितों में एक हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। , पुलिस ने हमले में शामिल 15 अन्य को वीडियो फुटेज के आधार पर चिन्हित कर लिया है।आइजी ने उपद्रवियों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। उनके खिलाफ डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट और रासुका के तहत भी कार्रवाई की जा रही है आरोपितों में मोहम्मद मुस्तफा हाजी मोहम्मद इस्माइल, नौशाद अहमद मुश्ताक अहमद कादरी, मोहम्मद गुलरेज हाजी अब्दुल गनी, शाहरुख खान फिरोज बाबा अंसारी, मुबारिक मोहम्मद इसहाक खान, शोहेब उर्फ शोबी मोहम्मद मुख्तियार  और मज्जू उर्फ मजीद अब्दुल गफूर सभी निवासी टाटपट्टी बाखल को गिरफ्तार कर लिया।