इंदौर में कोरोना संक्रमित एक और डॉक्टर समेत चार ने हारी जिंदिगी की जंग


इंदौर /मध्य प्रदेश में अब तक 451 संक्रमित और 36 मौतें हाे चुकी हैं। भोपाल से सटे विदिशा में एक दिन में 11 नए संक्रमित मिले हैं। भोपाल में 109 संक्रमित हो चुके हैं। और भोपाल में एक व्यक्ति की मौत भी हुई है। राज्य सरकार के संक्रमण रोकने के प्रयास नाकाफी साबित हो रहे हैं। प्रदेश सरकार ने 20 जिलों में जहां संक्रमित मिले, वहां की 46 बस्तियों को हॉटस्पॉट मानकर सील करने के आदेश दिए हैं।दूसरी तरफ इंदौर शहर में दो दिन में यह दूसरे डॉक्टर की मौत है। उल्‍लेखनीय है कि शहर में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं आधा दर्जन से मरीज स्‍वस्‍थ होकर घर लौट रहे हैं।जानकारी के अनुसार शुक्रवार को डॉक्टर और पूर्व जिला आयुष अधिकारी ओमप्रकाश चौहान काेरोना वायरस का शिकार हुए । डॉक्‍टर चौहान स्‍थानीय ब्रह्मबाग कालोनी में पिछले काफी समय से अपने प्रायवेट क्लीनिक में क्षेत्र के रहवासियों का इलाज कर रहे थे। अस्‍वस्‍थ होने के बाद उन्‍होंने पहले शहर के एक निजी अस्‍पताल में और वहां से अरबिंदो अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था जहां उनकी मौत हो गई।इसी के साथ कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बन चुके इंदौर में अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार को भी इंदौर में एक निजी चिकित्सक की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण से हुई थी।