कलेक्टर के निर्देश पर मिली दो परिवारों को त्वरित सहायता


काम बन्द होने से संकट मे था रजक परिवार.


अनूपपुर / लाकडाऊन के दौरान अनूपपुर जिला प्रशासन आम जनता की समस्याओं को लेकर संवेदनशील रहा है। जनप्रतिनिधियों, जिला प्रशासन एवं आम जनता के सहयोग का परिणाम यह है कि कहीं भी अव्यवस्था, भुखमरी जैसी स्थिति नहीं बनी है। सूचना मिलने पर स्वत: प्रशासन सहायता की कमान संभाले हुए है। ऐसा ही एक वाकया आज तब देखने को मिला जब सोशल मीडिया पर चली एक सूचना को ध्यान में लेकर कलेक्टर श्री चन्द्रमोहन ठाकुर ने नगरपालिका के कर्मचारियों को पीडित परिवार के घर भेज कर सहायता उपलब्ध करवाई।प्राप्त जानकारी के अनुसार एल आई सी अधिकारी अशोक शर्मा के घर  वार्ड क्रमांक 12 रेलवे कॉलोनी के सामने  रिलायंस टावर के पास निवासरत श्रीमती गंगा पति गोपी (सदस्य संख्या २) एवं  श्रीमती ममता रजक पति कमला रजक (सदस्य संख्या ४) लाकडाऊन के कारण काम बन्द होने से संकट में थे। श्री शर्मा ने दो माह का किराया माफ करके तथा प्रारंभिक दिनो में इनकी बडी मदद की। बाद में इन्होंने जिला मुख्यालय के एक वरिष्ठ पत्रकार के माध्यम से इस परिवार के सहायता की अपील की।इस परिवार के पास राशन कार्ड ना होने तथा पूर्णतया काम बन्द होने से अब खानेपीने की बडी परेशानी थी।इन्हे राशन तथा अन्य वस्तुओं की सख्त जरुरत थी। मामले की सूचना तत्काल कलेक्टर श्री चन्द्रमोहन ठाकुर को दी गयी। इसका परिणाम भी जल्दी ही सामने आ गया। कलेक्टर के निर्देश पर उक्त दोनों परिवारों को नगरपालिका अनूपपुर द्वारा घर पहुंचा कर राहत सामग्री प्रदान की गयी। प्रभावित परिवार ने स्वत: इसकी तस्वीरें शेयर कर कलेक्टर श्री ठाकुर एवं अन्य लोगों के प्रति आभार प्रकट किया है। यहाँ यह विशेष उल्लेखनीय है कि लाकडाऊन के पिछले सभी दिनों मे जिला प्रशासन ऐसी सभी सूचनाओं को गंभीरता से लेकर त्वरित कार्यवाही करता रहा है। इसकी सर्वत्र सराहना हो रही है।