मेडिकल से जावेद को भागने एक लाख पचास हजार में हुआ था सौदा ,वार्ड व्यॉय सुपरवाइज़र सुरच्छा कर्मी से सौदे वाज़ी


जबलपुर / कोरोना पेसेंट बंदी जावेद खान ने भर्ती रहकर हॉस्पिटल के वार्ड व्यॉय  वाइज़र सुरच्छा  कर्मी से  दोस्ती कर 1. 50  लाख  सौदे वाज़ी कर फरार हुआ था उसने भर्ती सुरेंद्र सोनी के मोबाइल से अपने परिजनों से बात की जावेद का कमरा बदलने के दौरान पुलिस को भी सुचना नहीं दी गई थी जब वह भगा तब सुरक्छा  कर्मी उसके कमरे की बजाय नीचे खड़े हो गए थे जिससे उसे भागने में आसानी हो गई ,बताया जा रहा है की पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में यह सामने आया है कि उसे एक वार्ड ब्वाय ने अपने कपड़े व चप्पल दी थी जिसे  भागने के बाद उसने वही कपड़े बदले थे.वही  एक ट्रैक्टर चालक ने  पुलिस को जानकारी दी कि रविवार दोपहर उसने जबलपुर-सिहोरा हाइवे पर जावेद को बाइक पर लिफ्ट दी थी। उसने बताया कि जगह के बारे में नहीं बता सकता, लेकिन हाइवे पर करीब डेढ़ किलोमीटर दूर वह बाइक से उतर गया था। इस सूचना के बाद ट्रैक्टर चालक तथा उसके संपर्क में आए सिहोरा के दो अन्य लोगों को आइसोलेशन में रखा गया है।


एसपी अमित सिंह का कहना है की जावेद को भागने में डेढ़ लाख का सौदा होने सम्बंधित जानकारी लगी है जिसकी जांच की जा रही  है