पलायन करते मजदूरों के पैर में पड़े छाले, भूखे प्यासे मजदूर पलायन को हैं मजबूर,स्थानीय लोगो ने की खाने की व्यवस्था

अमलाई /लॉकडाउन 2 के दौरान जहां-तहां फंसे मजदूरों की स्थिति दयनीय होने लगी है. इस कारण मजदूरों ने पलायन करना शुरू कर दिया है. लॉकडाउन के कारण काम धंधा बंद होने के कारण लोगों के पास घर वापस लौटने के सिवा कोई चारा नहीं बच गया था. लेकिन घर वापस लौटने के लिए कोई गाड़ी की व्यवस्था नहीं होने के कारण सभी पैदल ही चल दिए.प्रयागराज से रायपुर लौट रहे करीब 35 मजदूरों महिला बच्चो सहित  अमलाई बापू चौक  में दिखा. सैकड़ों किमी चल कर ये मजदूर आज अमलाई पहुंचे थे इनके  मजदूरों के पैर में छाले पड़ गए हैं.इन लोगों का कहना है कि लॉकडाउन के दौरान इनके पास खाने के लिए  पैसे नहीं बचे  थे , इस कारण इन्हें खाने की दिक्कत का सामना करना पड़ा.और ये वापस अपने घर को चल दिए .स्थानीय लोगों की मदद से इन लोगों के को पिकअप द्वारा चचाई स्थित पंडित दिन दयाल जनता रसोई में खाने की व्यवस्था की गई, साथ ही 10 मजदूरों का  जत्था रायपुर से सतना के लिए पलायन कर रहा था इन्हे अमलाई रेलवे लाइन में  चलते देख स्थानीय समाजसेवियो द्वारा साई जनता रसोई में भोजन पानी की व्यवस्था करा कर , प्रशासन को अवगत कराया गया, प्रशासन इन लोगों को सरकारी मदद पहुंचाने का प्रयास कर रहा है



 




 



Popular posts
आम जनता’’ के लिए बजट! परन्तु ‘‘आम’’ व्यक्ति गायब?
Image
शिक्षाविद गिजूभाई सम्मान 2023 राज्य स्तरीय सम्मान से सम्मानित हुए शिक्षक
Image
बरगवां अमलाई मेला मैदान अतिक्रमण की चपेट में ,अतिक्रमण होने से हाट बाजार में बदल गया मकर संक्रांति का मेला
Image
कारगिल विजय दिवस: 18 हजार फीट की ऊंचाई, 527 जवान शहीद, तब फहरा था तिरंगा
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह का 17 सितम्बर को होगा अनूपपुर आगमन 20 सितंबर तक रहेंगे अनूपपुर के प्रवास पर, गरीब कल्याण सप्ताह के कार्यक्रमों में होंगे शामिल  
Image