बालगृह के बच्चों ने पेंटिंग के माध्यम से कोरोना योद्धाओं के प्रति व्यक्त किया सम्मान

माँ की तरह देखभाल कर रहे हैं, कोरोना से लड़ाई लड़ रहे शासकीय सेवक



अनूपपुर/ दुनिया में अगर कोई रिश्ता सबसे मज़बूत है तो वह है माँ से अपनी संतान का। देखभाल एवं सुरक्षा की बात की जाय तो वह मनुष्य हो अथवा कोई भी जन्तु सभी का यही कहना होगा कि वे माँ के आश्रय में अपने आप को सबसे सुरक्षित महसूस करते हैं। मदर्स डे 10 मई के दिन ज़िले को कोरोना संक्रमण से संरक्षण दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे चिकित्सकों सहित समस्त स्वास्थ्य अमला, प्रशासनिक अधिकारियों के सम्मान में बालगृह के बालक ने पेंटिंग के माध्यम से इन कोरोना योद्धाओं के प्रति सम्मान प्रकट किया है नन्हें बालक ने पेंटिंग के माध्यम से कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर को नमन करते हुए लिखा आपके संरक्षण में माँ की कमी महसूस नही हुई। एक अन्य पेटिंग के माध्यम से बच्चों ने चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य स्टाफ़ को अपनी जान की परवाह करे बग़ैर निरंतर कोरोना से बचाव हेतु पूरी ऊर्जा से किए जा रहे प्रयासों के प्रति सम्मान व्यक्त करते हुए समस्त कोरोना योद्धाओं को नमन किया है।उल्लेखनीय है कि स्वास्थ्य दल द्वारा नियमित रूप से बालगृह जाकर बच्चों की स्वास्थ्य जाँच की जा रही है, इसके साथ ही कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु आवश्यक सावधानियों को अपनाने की सलाह भी दी गयी है। समस्त बच्चों को मास्क एवं नियमित रूप से हाथ की सफ़ाई करने हेतु हैंडवाश दिया गया है। नियमित जाँच के दौरान बच्चों के समक्ष विधिवत रूप से हाथ धोने की प्रक्रिया भी विस्तारपूर्वक बतलायी जाती है। बालगृह के अन्य कार्मिको को कोरोना संक्रमण से सुरक्षा हेतु समस्त एहतियात अपनाने के सख़्त निर्देश दिए गए हैं।


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image