गंदी राजनीति का शिकार हुआ गरीबों का मसीहा, शिवसेना को रास नहीं आ रही है सोनू सूद की दरियादिली

रघु मालवीय :-


बड़बोले संजय राऊत ने की कर्मवीर सोनू सूद की आलोचना..


भोपाल। कोरोना महामारी के बीच प्रवासी मजदूरों की दिल खोलकर मदद करने वाले फिल्म अभिनेता सोनू सूद के सेवाभावी कार्यो की जहां पूरे देश में प्रशंसा हो रही है,वहीं शिवसेना को सोनू सूद की यह दरियादिली रास नहीं आ रही है और शिवसेना के बड़बोले प्रवक्ता संजय राऊत सोनू सूद की आलोचना करने पर उतर आये हैं।जब मुम्बई की सड़कों पर प्रवासी मजदूर बदहवास होकर अपने गांव जाने के लिए सरकार के सामने मदद के लिए गुहार लगा रहे थे,तो उनकी मदद के लिए कोई आगे नहीं आया। ऐसे संकट के समय में इन गरीबों की मदद करने के लिए फिल्म अभिनेता सोनू सूद मसीहा बनकर आगे आये और हजारों मजदूरों को अपने खर्चे पर उन्हें उनके घर तक पहुंचाया। अपनी जान की परवाह किये बिना यह अभिनेता मुंह पर मास्क लगाकर मजदूरों को उनके घर पहुंचाने के लिए खुद सड़क पर आये। गरीब मजदूरों को बस में बैठाने के साथ ही उन्हें भोजन के पैकेट और पानी की बोतलें भी देते है। इतना ही नहीं इस महानायक ने कई मजदूरों को ट्रेन और फ्लाइट से भी उनके घर तक पहुंचाया। पर देश की गंदी राजनीति के सियासतदार इस नायक के महान कार्यो पर उंगली उठाने से बाज नहीं आये। शिवसेना के सुर में सुर मिलाते हुए कांग्रेस भी सोनू सूद के विरोध में उतर आई है। संजय राऊत ने सामना समाचार पत्र में सोनू सूद को भाजपा के इसारे पर काम करने तक का घटिया आरोप भी लगाया है। देश के सियासतदानों कहीं तो अपना मुंह बन्द कर लिया करो। कोई व्यक्ति तन,मन और धन से देश के गरीबों की मदद कर रहा है तो तुम्हें क्यों तकलीफ हो रही है? 


▪️


Popular posts
अनूपपुर जिला डाक विभाग की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया गया
Image
22 जनवरी को जनजातीय विश्वविद्यालय में भी अवकाश घोषित करने मुख्यमंत्री मोहन यादव, जिलाधीश और विश्वविद्यालय प्रशासन को सौपा गया ज्ञापन
Image
सरोवर भ्रष्टाचार के साथ आर्थिक आय का उद्गम स्थल :बृजेन्द्र पंत।
Image
संपूर्ण राजनगर हुआ राम मय,कलश यात्रा हेतु पीला चावल देकर किया आमंत्रित
Image
सांसद ने नहीं किया कोई प्रयास सूचना अधिकार में हुआ खुलासा अनूपपुर तक विस्तारीकरण का नहीं कोई प्रस्ताव
Image