लाॅकडाउन की खबर के बाद बाजारों में उमड़ी भारी भीड़ 

 


नये और पुराने भोपाल में आज फिर मिले कोरोना के 190 केस लाॅकडाउन लगाने को लेकर पहली बार उठे विरोध के स्वर...


रघु मालवीय :-


भोपाल। राजधानी भोपाल में कल 24 जुलाई रात 8 बजे से लाॅकडाउन लगाने की खबर के बाद आज शहर के सभी बाजारों में खरीदारों की भीड़ उमड़ पड़ी। लोग दस दिन के लिए अपने घरों में किराना सहित अन्य सामान खरीदने मे जुटे रहे,हालांकि कल भी शहर के सभी बाजार खुले रहेंगे। इस बीच शहर में कोरोना संक्रमितो की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। आज फिर भोपाल के अलग-अलग क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण के 195 मरीज मिले है,वहीं प्रदेश के कैबिनेट मन्त्री अरविंद भदौरिया कोरोना पाॅजिटिव आने के बाद उन्हें इलाज के लिए चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया है। उधर भोपाल में लाॅकडाउन लगाये जाने के खिलाफ शहर में पहली बार विरोध के स्वर उठने लगे है। भोपाल मध्य क्षेत्र के कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने त्यौहार के समय लाॅकडाउन लगाने का कड़ा विरोध किया है। मसूद ने जनप्रतिनिधियों से बिना सलाह मशविरा किये प्रदेश सरकार पर जबरदस्ती लाॅकडाउन थोपने का आरोप लगाया है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि ईद और रक्षाबंधन के त्यौहार को देखते हुए लाॅकडाउन में छूट दी जाए। वहीं प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने अपने बयान में कहा,त्यौहार मनाने से ज्यादा हमें नागरिकों के स्वास्थ्य की चिंता है। शहर में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जनता के हित में लाॅकडाउन लगाने का फैसला लिया है। इधर भोपाल में आज नये और पुराने शहर के कई क्षेत्रों से बड़ी संख्या में संक्रमित मरीज मिले है। इस समय भोपाल के हर कोने में संक्रमण फैल चुका है। टोटल लाॅकडाउन के दौरान डाँक्टरो,मेडिकल स्टाफ,सरकारी कर्मचारी,पत्रकारों के अलावा अखबार बांटने वालों को छूट रहेगी। इसके साथ ही फैक्ट्रीयों में काम करने वाले कर्मचारियों को आई कार्ड दिखाने पर जाने की अनुमति रहेगी।


 


Popular posts
मध्यप्रदेश विधि और विधायी कार्य विभाग ने शहडोल के 4 बुढ़ार के 2, जैतपुर के 2 और जयसिंहनगर के 02 अधिवक्ताओ को नोटरी कार्य के लिए किया नियुक्त
Image
अन्नदाता एवं किसानों की समस्याओं से वाकिफ हूं-फुंदेलाल
Image
रेलवे मजदूर कांग्रेस मंडल कार्मिक अधिकारी से कर्मचारियों की समस्याओं पर की चर्चा और किया स्वागत
Image
कोरोना वालेंटियर दीवार लेखन के माध्यम से दूसरे डोज के लिए ग्रामीणों को जागरूक कर रहे!
Image
पत्रकारों के परिजनों की सहायता के लिये हमेशा तत्पर -- सोनिया मीणा
Image