15 हजार की रिश्वत लेते प्रधान आरक्षक को लोकायुक्त पुलिस ने किया गिरफ्तार


रीवा। लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक श्री राजेंद्र कुमार वर्मा के निर्देशानुसार उप पुलिस अधीक्षक श्री प्रवीण सिंह परिहार एवं निरीक्षक श्री प्रेमेंद्र सिंह के नेतृत्व में कार्रवाई करते हुए , मुकदमा दर्ज करने के नाम पर 15 हजार की रिश्वत की मांग कर रहे जनेह थाना के प्रधान आरक्षक राजीव लोचन पांडे को  रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। जिसकी कार्रवाई पूरी हो जाने के बाद प्रधान आरक्षक को जमानत पर रिहा कर दिया गया है।लोकायुक्त पुलिस  ने बताया कि फरियादी पन्ना लाल कोरी, पिता- श्री छेदी लाल कोरी ग्राम-झोटिया तहसील त्योंथर जिला रीवा मध्य प्रदेश ने कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी कि थाना -जनेह जिला- रीवा के प्रभारी प्रधान आरक्षक ने मुकदमा कायम करने के लिए 15 हजार की रिश्वत की मांग कर रहे हैं। जिसका सत्यापन करने पर शिकायत सही पाई गई।जिसके बाद आज दिनांक 10-09-20  लोकायुक्त डीएसपी प्रवीण सिंह परिहार के नेतृत्व में 16 सदस्य टीम ने 15 हजार की रिश्वत लेते हुए प्रधान आरक्षक राजीव लोचन पांडे को ट्रैप किया है। लोकायुक्त संगठन द्वारा प्रधान आरक्षक के विरुद्ध जहां भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा के तहत मामला पंजीबद्ध कर मामले की विवेचना में लिया है।


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image