उप चुनाव से पहले जिला कांग्रेस अनूपपुर की उपेक्षा से नाराज कार्यकर्ताओं ने दिया सामुहिक इस्तीफ़ा


अनूपपुर। जिला कांग्रेस अनूपपुर के पक्षपातपूर्ण एवं द्वेष पूर्ण रवैया एवं अमलाई छेत्र के प्रमुख नेताओं पर एक पक्षीय करयावही पर सैकड़ों पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने पार्टी से इस्तीफा दिया। स्तीफा देने वालों में जहां बरगवां, अमलाई, देवहरा, बकही क्षेत्र के पंचायत प्रतिनिधि युवा व्यापारी  समाजसेवी बड़ी संख्या में है वहीं क्षेत्र के मतदाताओं में इनका खासा प्रभाव है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले विधानसभा एवं पंचायत चुनाव में इनके नेतृत्व में कांग्रेस को शानदार सफलता हासिल हुई थी आने वाले विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस को भारी नुकसान की संभावना बताई जा रही है ज्ञात हो कि बीते 1 अगस्त को क्षेत्र के पूर्व विधायक एवं मंत्री बिसाहूलाल सिंह के जन्म दिवस के अवसर पर जिले के कई कांग्रेसी भाजपा एवं क्षेत्रीय अधिकारी उनके निवास उन्हें बधाई देने पहुंचे थे इसी तारतम्य निजी संबंधों के चलते क्षेत्र के प्रमुख कांग्रेसी नेता द्वय संदीप पुरी एवं राजेश मिश्रा के नेतृत्व में लगभग सौ डेढ़ सौ लोगों का प्रतिनिधिमंडल निज निवास बधाई देने पहुंचा था एवं बरगवां को नगर पंचायत प्रस्तावित करवाने पर धन्यवाद ज्ञापित किया था इस घटना को आधार बनाकर जिला कांग्रेस द्वारा संदीप पुरी राजेश मिश्रा को पार्टी से 6 वर्षों के लिए निष्कासित कर दिए। इस घटना में पिछले कई दिनों से पूरे क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं में काफी रोष देखा जा रहा था और कयास लगाया जा रहा था ईस तरह का बड़ा कदम उठाया जा सकता है।हालांकि प्राप्त सूत्रों के अनुसार दोनों जिलों के कुछ वरिष्ठ कांग्रेसी एवं कांग्रेस की उम्मीदवारी कर रहे कुछ नेता स्थिति को संभालने का प्रयास कर रहे थे पर दोनों नेताओं के मान सम्मान की रक्षा हेतु समर्थकों ने एक पक्षी कार्रवाई बताते हुए कांग्रेश संगठन से इस्तीफा दे दिया।इस्तीफा देने वालों में प्रमुख रूप से जनपद सदस्य पवन चीनी वरिष्ठ नेता विवेक पांडे, राजदेव तिवारी पूर्व सचिव नगर कांग्रेस एवं वर्तमान मंडलम कोषाध्यक्ष आनंद स्वरूप ,रितेश गुप्ता बूथ प्रभारी रहे अमित सत्रूूसाल , आदित्य रावत, पीयूष सिंह ,संतोष टंडन उपसरपंच, युवा नेता मुकेश गुप्ता, राजेश यादव, भरत मेहरा ,अरुण तिवारी, दिनेश तिवारी बरगवां, देवहरा के पंच गण शामिल है।सभी ने एक सुर में कहा है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में हम सब अपने नेताओं के नेतृत्व में एकजुट होकर क्षेत्र के विकास में सहयोग करने वाले प्रत्याशी के पक्ष में कार्य करेंगे।इस्तीफे के साथ सैकड़ों कार्यकर्ताओं के हस्ताक्षर किए हुए एक पत्र को भी जारी किया गया है।


Popular posts
परिवारवाद’’,’’वंशवाद’’,’’भाई-भतीजावाद-चाचा-भतीजावाद’’ ’’अधिनायकवाद’’ एवं ’’जातिवाद’’! *लोकतंत्र के लिए खतरनाक? कैसे! कब! और क्यों? निदान!
Image
बिहार में एनजीओ के किचन में ब्लास्ट
Image
18 मई को दद्दाजी की प्रथम पुण्यतिथि में शिष्य मंडल जरूरतमंद स्थानों पर भोजन पैकेट का वितरण करेगा
Image
मिलावटखोरों पर कहर , अफसरों को मंत्री के निर्देश, रासुका  की तयारी 
Image
लॉकडाउन के दौरान अनुपपुर में शराब के लिए महुआ का  परिवहन  जोरो पर, धारा 144 का उलंघन
Image