इस्तीफा स्वीकार होने के बाद लूंगा कांग्रेस की सदस्यता रमेश कुमार सिंह ने पत्रकारों से कहा अभी वह मुद्दा है

 


प्रभारी एनपी ने पत्रकारों को भाजपा द्वारा सुनियोजित बताया


                       


अनूपपुर ,विश्व सत्ता, कांग्रेस एक शॉर्ट नोटिस पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष जयप्रकाश अग्रवाल ने पत्रकारों की बैठक आयोजित कर प्रशासनिक सेवा समिति से समय पूर्व आवश्यक सेवानिवृत्ति देने वाले एवं चर्चा में छाए रमेश कुमार सिंह को अपने मध्य बुलाकर एक पत्रकार वार्ता का आयोजन किया।जिसमें प्रदेश के चुनाव प्रभारी एनपी प्रजापति के साथ ही प्रभारी विधायक एवं नेता उपस्थित थे।पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने पत्रकारों को बताया कि कांग्रेस का उद्देश्य सदा साथ मिलकर चलने का और चलते रहने का रहा है।कांग्रेश के सभी लोग कांग्रेस का दामन नहीं छोड़ेंगे घर के अंदर क्या हो रहा है दूसरे को जानने का कोतुहल बना रहता है कयास लगाए जाते हैं।लेकिन रमेश कुमार सिंह के साथ ही उमाकांत उईके, बिसाहूलाल कुलहाड़ा, ममता सिंह सभी रोशनी बनकर साथ में है।कुछ ऐसे मोड़ आ जाते हैं विचलित हो जाते हैं लेकिन आज हमने जैतहरी ब्लॉक में मंडलम, ब्लॉक, सेक्टर की बैठक ली साथ साथ रहे।सभी का साथ कांग्रेश जनों का संबल प्रदान करेगा आज से हमने शुरुआत कर दी है एवं 10 तारीख को मां नर्मदा मैया का दर्शन कर उनसे आशीर्वाद लेकर एकजुटता के साथ भाजपा की नीति, गलत सिद्धांत जो लोकतंत्र के साथ कुठाराघात हो रहा है उसे गांधी के इस सिद्धांत के साथ कि ईश्वर अल्लाह तेरो नाम सबको सन्मति दे भगवान के साथ कांग्रेस का कार्य शुरू करेंगे। 7 को जलसा होगा 9 को उत्साह होगा 10 को एक नया सवेरा लाएगा।रमेश कुमार सिंह की कांग्रेस सदस्यता के बारे में एनपी प्रजापति ने कहा कि वह अंतःकरण से कांग्रेस से जुड़े हुए हैं।इसके पश्चात जब पत्रकारों ने रमेश कुमार सिंह से रूबरू हुए तो रमेश कुमार सिंह ने स्पष्ट किया कि उनका इस्तीफा अभी मेन मुद्दा है।वह स्वीकार हो जाए उसके बाद कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करूंगा।जब पत्रकारों ने जानना चाहा कि 2 दिन पूर्व मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ आए तो उनसे आप की दूरी का मतलब क्या है तो उन्होंने कहा यह हमारा इंटरनल मामला है।वही जब उनसे पूछा गया कि 11 तारीख को आप बैठक करने जा रहे हैं तो उन्होंने कहा कि हां बैठक यथावत है होगी।इसी बीच प्रभारी एनपी प्रजापति पत्रकारों के मध्य आकर कहने लगे की पत्रकार भाजपा के द्वारा सुनियोजित है और रमेश कुमार सिंह को पकड़कर ले गए अपने साथ।


Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image