मध्यप्रदेश विधि और विधायी कार्य विभाग ने शहडोल के 4 बुढ़ार के 2, जैतपुर के 2 और जयसिंहनगर के 02 अधिवक्ताओ को नोटरी कार्य के लिए किया नियुक्त

शहडोल । दस्तावेजों को प्रमाणित करने के लिए सरकार वकील को नोटरी का अधिकार देती है।मध्यप्रदेश विधि और विधायी कार्य विभाग ने शहडोल के 04 बुढ़ार के 2, जैतपुर के 2 और जयसिंहनगर के 02 अधिवक्ताओ  को नोटरी कार्य के लिए नियुक्त किया है। विभाग ने अधिसूचना जारी कर जिला एवं सत्र न्यायाधीश शहडोल  को सूचना दे दी है। नियुक्ति पत्र के अनुसार शहडोल  के लिए एडवोकेट विनोद शर्मा,चंद्रेश द्विवेदी,शैलेश गुप्ता ,सुभाष चंद्र सोनी ,दिलीप कुमार ,बुढ़ार  के लिए एडवोकेट विजय पांडेय ,नत्थूलाल सोनी,तसील जैतपुर से वीरेंदर कुमार पटेल ,बैजनाथ श्रीवास  और तहसील जयसिंह नगर से निशा शुक्ला ,दिलीप प्यासी को  अधिकृत नोटरी बनाया गया है। विधि और विधायी कार्य विभाग के अपर सचिव प्रशांत कुमार द्वारा जारी नियुक्ति में  सभी एडवोकेट्स 18  नवम्बर  2020 से 17 नवम्बर  2025 यानी कुल पांच साल तक नोटरी के रूप में व्यवसाय कर सकेंगे।इन सभी की नियुक्ति पर संभाग के अधिवक्ता बंधुओ जिनमे कामता गौतम,ओमकार शुक्ला,अरुण कुमार शर्मा,सत्यभान मिश्रा,रावेंद्र तिवारी, सतेंद्र शुक्ला,संतोष शुक्ला, विजय तिवारी,राकेश शुक्ला,उमेश अवस्थी,नीलेश पांडे,मनोज पांडे,उमेश राय,विनय पाण्डेय,प्रोफेसर विकास सिंह आदि मित्रो  ने शुभकामनाये एवं बधाई प्रेषित की है .