सुरक्षा की दृष्टिकोण से जिला मुख्यालय के छठ पूजा का स्थान परिवर्तन


अनूपपुर /जिला मुख्यालय मे मढ़सा तलाब मे इस बार छठ पूजा की तैयारी हेतु साफ सफाई नगरपालिका के द्वारा प्ररम्भ कि गई,पूर्व वर्ष यह पर्व तिपान नदी मे मनाया जाता रहा,परन्तु नदी में जल का भराव अधिक होने के कारण स्थान सुरक्षा की दृष्टि से परिवर्तन किया गया है।इस कार्यक्रम की तैयारी मे नगरपालिका के मुख्य नगरपालिका अधिकारी हरिओम वर्मा, बृजेश मिश्रा, एडवोकेट के.ए.प्रसाद अंजुमन कमेटी के सचिव बाबा खान (तौहीद खान), रेलवे मजदूर काँग्रेस के संयुक्त महामंत्री,लक्ष्मणराव,कमलनाथ,सद्भावना मंच के जिलाध्यक्ष सतेन्द्र दुबे,, उमेश राय,शिवाशु रंजन आदि लोग उपास्थित रहे 


सूर्य उपासना का विशेष महत्व :-


मान्यता के अनुसार छठ माता सूर्य देवता की बहन हैं। सूर्य देव की उपासना करने से छठ माई प्रसन्न होती हैं और मन की सभी इच्छाएं पूरी करती हैं। इस वर्ष यह त्योहार 18 नवंबर से 21 नवंबर तक मनाया जाएगा। 18 नवंबर को नहाय खाय, 19 नवंबर को खरना, 20 नवंबर को संध्या अर्घ्य और 21 नवंबर को उषा अर्घ्‍य के साथ इसका समापन होगा। इन 4 दिनों तक सभी लोगों को कड़े नियमों का पालन करना होता है। इन 4 दिनों में छठ पूजा से जुड़े कई प्रकार के व्‍यंजन, भोग और प्रसाद बनाए जाते हैं।


Popular posts
अनूपपुर जिला डाक विभाग की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया गया
Image
22 जनवरी को जनजातीय विश्वविद्यालय में भी अवकाश घोषित करने मुख्यमंत्री मोहन यादव, जिलाधीश और विश्वविद्यालय प्रशासन को सौपा गया ज्ञापन
Image
सरोवर भ्रष्टाचार के साथ आर्थिक आय का उद्गम स्थल :बृजेन्द्र पंत।
Image
संपूर्ण राजनगर हुआ राम मय,कलश यात्रा हेतु पीला चावल देकर किया आमंत्रित
Image
सांसद ने नहीं किया कोई प्रयास सूचना अधिकार में हुआ खुलासा अनूपपुर तक विस्तारीकरण का नहीं कोई प्रस्ताव
Image