कृषि कानूनों के विरोध में मप्र कांग्रेस का एलान 15 जनवरी को हर जिले में 2 घंटे चक्काजाम, 23 को करेंगे राजभवन का घेराव

कमल नाथ ने एमएसपी को कानूनी रूप देने के साथ तीनों कानूनों को रद्द करने की मांग की। साथ ही कहा कि कांग्रेस द्वारा सात से 15 जनवरी तक एक दिन का धरना, प्रदर्शन और बैठक होगी। इसके अलावा 15 जनवरी को दोपहर 12 बजे से दो घंटों किसानों द्वारा चक्काजाम किया जाएगा। इस चक्का जाम की शुरुआत और अंत में दो मिनट का हॉर्न-शंखनाद होगा। 20 जनवरी को मुरैना में किसान महापंचायत होगी और 23 जनवरी को राजभवन का घेराव होगा।

भोपाल /कृषि कानून के खिलाफ  दिल्ली में जारी किसान आंदोलन के समर्थन में मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने 15 जनवरी को किसान कानूनों के विरोध में दो घंटे का राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमल नाथ ने कहा है कि इस दिन दो मिनट का हॉर्न-शंखनाद होगा और दो घंटे तक चक्का जाम रखा जाएगा। इसके बाद 23 जनवरी को राजभवन का घेराव होगा।उन्होंने केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों को किसान विरोधी करार देते हुए कहा कि इन कानूनों से कृषि उत्पाद के बाजारों पर कार्पोरेट घरानों का कब्जा हो जाएगा और छोटे व्यापारियों का व्यापार और व्यापारिक प्रतिस्पर्धा खत्म हो जाएगी। नतीजतन, बड़े व्यापारी मनमानी करेंगे। 


Popular posts
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image
बरगवां हाईस्कूल को हायर सेकंडरी में उन्नयन करने की मांग
Image