जेल मे लोकायुक्त का छापा,25 हजार की रिश्वत लेते प्रहरी और सफाईकर्मी गिरफ्तार

जेलर के नाम पर 25 हजार की रिश्वत लेते प्रहरी और सफाईकर्मी पकड़ाया



इंदौर। इंदौर लोकायुक्त की टीम ने आज दोपहर महू स्थित उपजेल पर छापामार कार्रवाई करते हुए शराब तस्करी के मामले में बंद एक बंदी को वीआईपी सुविधा दिलाने के नाम पर 25 हजार की रिश्वत लेते जेल प्रहरी और एक सफाई कर्मचारी को रंगे हाथों पकड़ा।लोकायुक्त डीएसपी आर.एस. बघेल ने बताया कि 26 फरवरी को महू  निवासी जितेन्द्र सोलंकी ने शिकायत की थी कि महू जेल में विनोद चौहान निवासी हातोद शराब तस्करी में बंद है को जेल में सुविधा उपलब्ध कराने और वीआईपी मुलाकात कराने के नाम पर 25 हजार की रिश्वत मांगी जा रही है। यह रिश्वत जेल प्रहरी अजेन्द्रसिंह राठौर द्वारा जेल ब्रजेश मकवाना के नाम पर मांगी गई थी।आज करीब 11.30 बजे इंदौर लोकायुक्त की टीम जेल पहुंची जैसे ही शिकायकर्ता जितेन्द्र सौलंकी ने प्रहरी राठौर को 25 हजार रुपए की गड्डी थमाई तो उसने जेल के सफाई कर्मचारी  मनीष बाली को देने कहा। बाली ने जैसे ही नोट हाथ में लिए  लोकायुक्त की टींम ने उन्हें धर दबोच लिया। इस कार्रवाई से जेल में हड़कंप मच गया। कार्रवाई के दौरान जेलर मकवाना भी वहां मौजूद थे उन्हें भी कार्रवाई करने के लिए लोकायुक्त पुलिस इंदौर लाई है।
Popular posts
‘लोकतंत्र के मंदिर’’ में ‘‘अर्द्धसत्य’’ कथन कर ‘‘न्याय मंदिर’’ व ‘‘जनता के मंदिर’’ को झूठला दिया गया?
Image
पेगासस : पत्रकारों, जजों मंत्रियों आदि की जासूसी लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए अत्यंत खतरनाक , जांच ज़रूरी..
Image
क्या ‘‘वरूण’’ भारतीय राजनीति में (विलुप्त होते) ‘‘गांधीज़’’ (नाम) की परंपरा के सफल वाहक सिद्ध हो पायेगें
Image
तनाव’’, ‘‘कारण-निवारण’’!
Image
रेलवे स्टेशन के बाहर लोकायुक्त की कार्रवाई, कार्यपालन अभियंता को तीन लाख की रिश्वत के साथ पकड़ा
Image