उपस्वास्थकेंद्र बरगवां में पूर्ण कालिक डॉक्टर की नियुक्ति एवं कोविड केयर सेंटर बनाया जाये - पवन चीनी

अनूपपुर । कोरोना वायरस संक्रमण अब बेकाबू होता दिख रहा है। उससे खराब स्थिति अस्‍पतालों की होने लगी है। अस्‍पताल बेड, ऑक्‍सीजन सहित आवश्‍यक संसाधानों की कमी से जूझ रहे है। सरकार द्वारा बरगवां गांव निर्मित उपस्वास्थ्य केंद्र का पूर्ण लाभ गांव के लोगों को नहीं मिल पा रहा है। बिगड़े हालात को देखते हुए जनपद सदस्य पवन चीनी  ने उप स्वास्थ्य केंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाने की मांग की है। ताकि स्थाई रूप से एक डॉक्टर की नियुक्ति हो जाए।लेकिन स्वास्थ्य केंद्र में डाक्टर, विशेेषज्ञों की नियुक्ति नहीं होने के कारण लोग गांव में लाखों का अस्पताल होते हुए भी पूर्ण स्वास्थ्य सुविधाओं को तरस रहे हैं। पवन चीनी का कहना है सरकार ने गांव के लोगों की सुविधाओं को ध्यान में रखकर उपस्वास्थ्य भवन को बनाया  है ,साथ ही ANM  की पदस्थापन भी की है , लेकिन डॉक्टर की कमी छेत्र के रहवासियों को खल रही है । सरकार की लाभकारी स्वास्थ्य संबंधी योजना का लाभ गांव के जरूरत मंद लोगों को नहीं मिल रहा। लोगों को प्राथमिक इलाज के लिए कम से कम १५ से 30 किलोमीटर दूर आज भी शहडोल या अनूपपुर जाना पड़ता है   पांच हजार से अधिक आबादी वाले ग्राम में लोग वर्षों से स्वास्थ्य सेवाओं से उपेक्षित हैं।  अगर ऐसा अभी संभव नहीं है तो  उपस्वास्थ्य केंद्र भवन में अस्थाई  कोविड केयर सेंटर बनाया जाए. कोविड केयर सेंटर के लिए नर्सिंग स्टाफ के साथ साथ डॉक्टर, और पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य सुविधाएं  भी उपलब्ध कराइ जाय जिससे कोरोना संक्रमण से ग्रसित मरीज को प्राथमिक उपचार दिया जा सके । जिससे ग्रामीणों को नि:षुल्क इलाज एवं दवाएं मिल सकें एवं गरीबी में गुजारा कर रहे लोगों को बीमारियों से राहत मिल सके,अगर इसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बना दिया जाए तो उससे निश्चित ही आने वाले दिनों में क्षेत्र के नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं मिलने लगेंगी ऐसा  मानना है।

Popular posts
महात्मा गांधी, एवं स्व. श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर एक दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का आयोजन, बरगवां यूथ ब्रिगेड रही विजेता
Image
मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज, मंत्री बिसाहूलाल सिंह को भोपाल लेजाने अचानक पंहुचा हेलीकॉप्टर
Image
राज्यपाल के कार्यक्रम में जनजाति समाज के लोगों के जीवन को खतरे में डालने कि इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्‍वविदयालय की साजिश .
Image
जातिगत आरक्षण को समाप्त कर आर्थिक आरक्षण व्यवस्था लागू करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन
Image
अमरकंटक, चित्रकूट, गरीब रथ, शक्तिपुंज, सोमनाथ एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाने की मंजूरी
Image