डीजल ने भी मारा शतक, भारतवर्ष में अनूपपुर ने बनाया रिकॉर्ड अनूपपुरवासी हुए गौरवान्वित. मिठाइयां बाट कर मनाई खुशियां

चैतन्य मिश्रा:-

अनूपपुर / लॉकडाउन ने आम जनता की कमर पहले ही तोड़ दी थी। अब जो बची हुई कसर है वो महंगाई पूरा कर दे रही है ।देश में पेट्रोल और डीजल  के दाम तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसा लगता है जब भी सरकार को अपना  खजाना भरना होता है। उनके पास सीधा सा उपाय होता है कि पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाएं जाएं। पेट्रोल पहले ही  शतक  पार पहुंच चूका था  और आज डीजल भी शतक लगा कर मैदान पर डटा हुआ है ,और दोहरे शतक की तयारी में है। देश की आम जनता निरंतर तेल के बढ़ते दामों से हाहाकार तो कर रही  है। लेकिन किसी  के भी ऊपर एक जूं तक नहीं रेंग रही है। लगता है सब का राजनितिकरण हो गया है। मूल्य बृद्धि में देश में मध्य प्रदेश ने अपनी अलग ही पहचान बनाई है ,यहाँ डीजल  पेट्रोल की कीमत ने सारे रिकार्ड तोड़ दिये. मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले में डीजल  का दाम 100.25   प्रति लीटर के भी पार पहुंच गया है. यह दिखाई सब को देता किन्तु कोई कुछ बोलना नहीं चाहता।  शायद कहीं ना कहीं पक्ष और विपक्ष इसके पक्षधर हैं।इस बात को लेकर अनूपपुर जिला भी अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा है ,की देश  में सबसे ज्यादा महंगा डीजल पेट्रोल अगर कही बिक रहा है तो वो अनूपपुर जिले में बिक रहा है ,पेट्रोल  और डीजल की बढ़िया साझेदारी में डीजल ने भी बराबर साथ दिया है लाक डाउन जैसे मुश्किल हालत में आम जनता के जेब से  खेलना आसान नहीं था लेकिन मौजूदा सरकार ने कर दिखाया । आज जैसे ही डीजल के दाम १०० रूपये को  पार किया अनूपपुर की जनता में एक अलग ही  उत्साह का माहौल देखने को मिला ,लोगो ने आपस में ख़ुशी जाहिर करते हुए एक दुसरे से गले लग कर (कोविड प्रोटोकाल को ध्यान में रखकर )  मिठाईया बाटीं और मौजूदा  सरकार  को बधाइयाँ प्रेसित की और कहा की देश हित  में ऐसे ही कार्य करते रहे ।  मेरा भी एक छोटा सा सवाल है  कि सिर्फ एक डीजल पेट्रोल महंगा होने  से अगर , साइकिल चलाकर लोगों का पेट कम हो रहा है,पर्यावरण की रक्षा हो रही है, तो किसी को क्या तकलीफ है भाई!  अब तो एक ही नारा होना चाहिए    देशभक्ति का सबूत दो, पेट्रोल पंप पर गाड़ी की टंकी फुल करो। वैसे भी हम आम जनता  का  मानना है कि डीजल , पेट्रोल की कीमतें अगर यूं ही बढ़ती रही, तो महंगाई बढ़ेगी। महंगाई बढ़ी, तो आम आदमी का तेल निकलेगा और एक बार आम आदमी खुद तेल देने लगा, तो महंगाई अपने आप कम हो जाएगी! 


Popular posts
परिवारवाद’’,’’वंशवाद’’,’’भाई-भतीजावाद-चाचा-भतीजावाद’’ ’’अधिनायकवाद’’ एवं ’’जातिवाद’’! *लोकतंत्र के लिए खतरनाक? कैसे! कब! और क्यों? निदान!
Image
18 मई को दद्दाजी की प्रथम पुण्यतिथि में शिष्य मंडल जरूरतमंद स्थानों पर भोजन पैकेट का वितरण करेगा
Image
मिलावटखोरों पर कहर , अफसरों को मंत्री के निर्देश, रासुका  की तयारी 
Image
लॉकडाउन के दौरान अनुपपुर में शराब के लिए महुआ का  परिवहन  जोरो पर, धारा 144 का उलंघन
Image
गुना में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या से सनसनी, काले हिरण के शिकारियों ने रात में मारी गोली
Image