भाजपा संगठन की जागीर नही पत्रकार निष्पक्ष व निर्भीक हैं अनूपपुर के पत्रकार

कब तक रहेगा कमल का प्रताप

अनूपपुर। भारतीय जनता पार्टी के जिला मीडिया प्रभारी के द्वारा शुक्रवार की रात तकरीबन 9 बजे पत्रकारों को जिला भाजपा कार्यालय में वार्ता हेतु आमंत्रित किया गया। वार्ता रेलवे फाटक की समस्या से निजात दिलाने के लिये ओव्हर ब्रिज निर्माण का कार्य प्रारंभ न होने तक अनिष्चितकालीन उपवास पर 13 सितंबर से बैठे रहे पूर्व विधायक रामलाल रौतेल का उपवास भाजपा संगठन के संभागीय प्रभारी व प्रदेष महामंत्री हरिषंकर खटीक ने पहंुचकर तोडवाया और इस संदर्भ में पत्रकारो से वार्ता की। इसी बीच शहडोल जिलाध्यक्ष कमल प्रताप सिंह ने पत्रकारों के सवाल पर अपना रूतबा दिखाते हुये स्पष्ट शब्दो में कहा कि ऐसे दर्जन भर पत्रकार मै अपनी जेब में रखता हंू। उन्होने संगठन के चाल-चरित्र और चेहरे को बेबाकी से कहा अनूपपुर के पत्रकारो ने स्पष्ट किया कि पत्रकार भाजपा संगठन की जागीर नही वह निष्पक्ष और निर्भीक हैं। अब देखना यह है संगठन इस पूरे मामले में क्या कुछ संज्ञान लेता है या संगठन की साख पर बट्टा लगाने वालो को यंू ही छूट देता रहेगा।

दखल अंदाजी अपना मामला

भारतीय जनता पार्टी के लगातार चौथी बार सत्ता में आने के बाद भले ही मंत्रियों और विधायकों के पांव जमीन पर हो, लेकिन संगठन और पार्टी के नाम पर राजनीति करने और अपनी रोटी सेकने वाले जनाधार विहीन नेता अपने बिगड़े बोलो से पार्टी के अस्तित्व को लगातार खतरे में डाल रहे हैं, बीते दिनों अनूपपुर प्रवास पर आए भारतीय जनता पार्टी के हरिशंकर खटीक के साथ पहले अमरकंटक और बाद में अनूपपुर दौरे पर अपना जिला छोड़कर घूम रहे भारतीय जनता पार्टी शहडोल के जिला अध्यक्ष कमल प्रताप सिंह इन दिनों शहडोल से ज्यादा अनूपपुर की राजनीति में रुचि लेते हुए नजर आ रहे हैं। 

साए की तरह चिपके नेता 

कमल प्रताप सिंह का अनूपपुर में एक दशक पुराना इतिहास है, जब उन्होंने अमरकंटक थर्मल पावर केंद्र में ठेकेदारी शुरू की थी, लेकिन समय के साथ आज शहडोल भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष है, शुक्रवार की शाम हरिशंकर खटीक अनूपपुर दौरे पर थे, इस दौरान उनके साथ शहडोल के नेता साए की तरह चिपके हुए थे, पत्रकारों से रूबरू होते हुए श्री खटीक ने सवालों के जवाब तो दिए, लेकिन इस दौरान शहडोल के भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष कमल प्रताप सिंह का रुतबा भी कम नजर नहीं आया।

पत्रकारों को रखता हंू जेब में 

शहडोल के भाजपा जिलाध्यक्ष को जब पत्रकारों और अन्य स्थानीय भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, पदाधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों ने भाव नहीं दिया तो, उनका गुस्सा मीडिया पर उतरता नजर आया, प्रतिनिधि से चर्चा के दौरान कमल प्रताप सिंह ने बड़ी बेबाकी से कहा कि पत्रकारों को तो मैं अपनी जेब में डाल कर रखता हूं, चौथे स्तंभ के संदर्भ में इस तरह के बयान भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष की गंभीरता और नैतिकता को दर्शाते हैं, इससे पहले भी कमल प्रताप सिंह द्वारा शहडोल जिले के मंडल अध्यक्षों को इक-ा कर शहडोल जिले के कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य और पुलिस अधीक्षक अवधेश कुमार गोस्वामी सहित ब्यौहारी विधायक  शरद कोल की शिकायत सौंपने की खबर है।

आखिर क्यों की शिकायत 

भाजपा कार्यालय या किसी सार्वजनिक स्थान पर भारतीय जनता पार्टी के तथाकथित अध्यक्ष के घर पर होने की बातें कही गई, जिसमें मंडल अध्यक्षों को बुलाया गया था और हरिशंकर खटिक के सामने आने की कोशिश की गई, शहडोल तथा आसपास के जिलों में भारतीय जनता पार्टी के अकेले कर्णधार कमल प्रताप सिंह ही है और वही पार्टी तो बीते विधानसभा लोकसभा से लेकर नगरीय निकाय चुनाव में जीत के दरवाजे तक पहुंचाने वाले योद्धा, इस बात की पुष्टि तो नहीं हो पाई कमल प्रताप सिंह ने कलेक्टर, एसपी, विधायक के खिलाफ शिकायत क्योंकि या नहीं, लेकिन इस बात को लेकर राजनीतिक गलियारों में इनदिनों चर्चाएं गर्म है।

Popular posts
राज्यपाल के कार्यक्रम में जनजाति समाज के लोगों के जीवन को खतरे में डालने कि इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्‍वविदयालय की साजिश .
Image
मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज, मंत्री बिसाहूलाल सिंह को भोपाल लेजाने अचानक पंहुचा हेलीकॉप्टर
Image
महामहिम राज्यपाल का जनजाति समुदाय की ओर से विधायक पुष्पराजगढ़ ने किया स्वागत जनसमस्याओं से कराया अवगत
Image
महात्मा गांधी, एवं स्व. श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर एक दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का आयोजन, बरगवां यूथ ब्रिगेड रही विजेता
Image
राजनीति और कानून का मिश्रित नंगा स्तरहीन नाच ? ‘‘लखीमपुर खीरी"
Image